दिल्ली पुलिस को अक्सर बुरा-भला ही सुनना पड़ता है. चाहे वो दिल्ली दंगों को लेकर हो या फिर जेएनयू और जामिया के छात्रों वाले विषय पर हो. देश की राजधानी में तैनात पुलिसवाले अक्सर मीमर्स और हेटर्स का शिकार हो ही जाते हैं. 

दिल्ली पुलिस का एक दूसरा चेहरा भी है, इंसानियत का चेहरा.

New Indian Express की रिपोर्ट के मुताबिक़, दिल्ली पुलिस बल ने प्लाज़्मा दान करके अब तक 350 लोगों की जान बचाई है. दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल, कृष्ण कुमार ने सबसे ज़्यादा 5 बार प्लाज़्मा दान किया है और 15 लोगों की जान बचाई है.

Source: New Indian Express
मैं 1 महीने तक वेंटिलेटर पर था. किसी को नहीं लगा था कि मैं बच पाऊंगा, लेकिन भगवान की कृपा से मैं बच गया. जब मैं ठीक हो गया तब मुझे पता चला कि बाक़ी लोग अपनों की जान बचाने के लिए क्या कुछ नहीं कर रहे. ये देखकर मैंने प्लाज़्मा डोनेट किया.

                    - कृष्णा कुमार

दिल्ली पुलिस के पीआरओ ईश सिंघल ने बताया कि, दिल्ली पुलिस के अब तक 6,937 से ज़्यादा पुलिसवाले कोविड पॉज़िटिव हुए हैं. इनमें से 26 पुलिसवालों ने जान गंवाई.

Source: National Herald
दिल्ली पुलिस दल के और कई Subordinate कोविड वॉरियर्स ने इस ख़तरनाक बीमारी को हराने के बाद कोविड-19 मरीज़ों की जान बचाई है. उन्होंने अपने सहकर्मियों, परिवारवालों, दोस्तों और यहां तक कि दिल्ली ही नहीं उत्तर प्रदेश और हरियाणा के अनजान लोगों को प्लाज़्मा दान किया है.

                    - ईश सिंघल

23 नवंबर तक दिल्ली पुलिस के 323 जवानों ने प्लाज़्मा दान किया.