प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को राजस्थान के चित्तौरगढ़ में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे. अपने भाषण के अंत में उन्होंने श्रीलंका में हुए आतंकी हमले का भी ज़िक्र किया.

अपनी सरकार के उपलब्धियों और कांग्रेस की नाकामियों को गिनाने के बाद PM मोदी ने भाषण अंत करने से पहले श्रीलंका में हुए आतंकी हमले पर अपनी संवेदना प्रकट की और कहा, 'ये धमाके चर्च, होटल में हुए. पूरी दुनिया ईस्टर का पवित्र त्योहार मना रही थी, प्रभु इशु के शांति संदेश को याद कर रही थी. तभी इन नराधमी आतंकियों ने सैकड़ों बच्चों को, माताओं को, बहनों को बम धमाके से मार दिया... आज श्रीलंका में जो कुछ भी हुआ है, भारत अपने पड़ोसी देश के साथ खड़ा है. ऐसी संकट की घड़ी में भारत श्रीलंका की जो भी मदद कर सकता, उसके लिए तैयार है.'

इसके तुरंत बाद प्रधानमंत्री मोदी ने रैली में आए लोगों से अपील करते हुए कहा, 'आप सब जब वोट देने जाएंगे, कमल के निशान पर बटन दबाएंगे, तब मन में ये भी तय करिए कि आप बटन दबा रहे हैं, आतंकवाद को ख़त्म करने के लिए.'

प्रधानमंत्री के इस भाषण के बाद सोशल मीडिया पर उनकी कड़ी आलोचना हुई.

आपको बता दें कि श्रीलंका में रविवार को ईस्टर के मौके पर हुए आतंकी हमलों में कुल 290 लोगों ने अपनी जान गंवाई.