प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक बार फिर कोरोना वायरस के बढ़ते ख़तरे और बचाव को लेकर राष्ट्र को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने पूरे देश में 14 अप्रैल तक पूरी तरह से लॉक डाउन का एलान किया है. इससे पहले 19 मार्च को पीएम मोदी ने देश को संबोधित किया था और 'जनता कर्फ़्यू' का एलान किया था.

Source: livemint

आईये जानते हैं प्रधानमंत्री मोदी जी ने कोरोना वायरस को लेकर देशवासियों से क्या-क्या अपील की-

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'जनता कर्फ़्यू' के समर्थन के लिए देश की जनता का शुक्रिया अदा किया.

-पीएम मोदी ने कहा कोरोना वायरस से बचने के लिए आज रात 12 बजे से पूरे देश में 21 दिन के लिए लॉकडाउन.

-देश के हर राज्य को, हर केंद्र शासित प्रदेश को, हर ज़िले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले को अब लॉकडाउन किया जा रहा है.

Source: indiatoday

-घर में रहें, एक ही काम करें कि अपने घर में रहें. इस फैसले ने आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है.

-आने वाले 21 दिन हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं. अगर इन 21 दिनों में नहीं संभले तो देश 21 साल पीछे चला जायेगा.

-हेल्थ एक्सपर्ट्स के लिए अगले 21 दिन कोरोना की संक्रमण सायकिल को तोड़ने के लिए बेहद महत्वपूर्ण होने जा रहे हैं.

Source: ake

-कोरोना के मरीज़ों के इलाज़ के लिए, देश के हेल्थ इंफ़्रास्ट्रक्चर को और मज़बूत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने 15 हज़ार करोड़ रुपए का प्रावधान किया है.

-कोरोना से जुड़ी टेस्टिंग फ़ेसिलिटीज़, पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्वीपमेंट्स, आइसोलेशन बेड्स, ICU बेड्स, वेंटिलेटर, और अन्य ज़रूरी साधनों की संख्या तेज़ी से बढ़ाई जाएगी.

-कोरोना वायरस का असर लगातार बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में लोगों को 'सोशल डिस्टेंसिंग' करनी ही होगी.

Source: indiatvnews

-कोरोना वायरस से बचने के लिए हमारे पास 'सोशल डिस्टेंसिंग' के अलावा दूसरा कोई विकल्प नहीं है.

-आज भी देशभर में कई लोग इसे हल्के में ले रहे हैं, अगर इसी तरह लापरवाही बरतेंगे तो सज़ा भुगतनी होगी.

-कुछ लोगों की लापरवाही, ग़लत सोच, आपके परिवार को, आपके दोस्तों को, पूरे देश को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी.

Source: indiatoday

-इस महामारी ने दुनिया के समर्थ से समर्थ देश भी बेबस कर दिया है, हम भारतीयों की एक ग़लती हमें कई साल पीछे धकेल सकती है.

-इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी, लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है.

-सोचिए कोरोना वायरस कितनी तेज़ी से फ़ैल रहा है. पहले 1 लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे फिर 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ़ 11 दिन लगे. जबकि 3 लाख लोगों तक पहुंचने में इसे सिर्फ़ 4 दिन लगे.

Source: cnbctv18

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाथ जोड़कर लोगों से अपील करते हुए कहा हमें भी ये मानकर चलना चाहिए कि हमारे सामने लॉकडाउन ही एकमात्र सहारा है. हमें घर से बाहर नहीं निकलना है. चाहे जो हो जाए, घर में ही रहना है.