OLX और ऐसे ही ऑनलाइन सेलिंग साइट्स/ऐप्स पर चोरी की घटनाएं आम हैं. चोर, ख़रीदार बनकर ग्राहकों की जेब काट जाते हैं.


ऐसे ही एक बाइक चोर को फ़िल्मी अंदाज़ में बेंगलुरु के Hebbal पुलिस ने पकड़ा है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, बाइक चोर ऐड डालने वालों से कस्टमर बनकर बात करता और बाइक चुरा लेता.

पुलिस ने भी बाइक बेचने का विज्ञापन डाला. 3 महीने बाद आरोपी ने पुलिस से संपर्क किया और पुलिस ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया.


आरोपी सलीम, गोविंदपुरा इलाके में अकेला रह रहा था, उसकी दो पत्नियों ने उसे छोड़ दिया था. सलीम कैब ड्राइवर था, पर उसने बाइक चोरी करने के लिए नौकरी छोड़ दी थी.

पुलिस का कहना है कि सलीम को बाइक का शौक़ था और टेस्ट ड्राइव के बहाने वो बाइक चुरा लेता.

सनथ कुमार भट ने Hebbal पुलिस के पास बाइक चोरी की शिकायत दर्ज की थी. सनथ ने बताया कि सलीम ने उसे 'राहुल' नाम से संपर्क किया और उनकी Yamaha FZs 35 हज़ार में ख़रीदने को तैयार हो गया था. आरोपी ने बाइक की टेस्ट ड्राइव के लिए सनथ पर दबाव बनाया. सनथ पीछे बैठा और राहुल उसे एक बिल्डिंग के पास ले गया. आरोपी ने बाइक मोड़ने के लिए सनथ को उतरने कहा. जैसे ही वो उतरा आरोपी बाइक लेकर फ़रार हो गया.


Hebbal पुलिस ने Pulsar बाइक बेचने का एड डाला था. पुलिस ने सनथ से आरोपी की शिनाख़्त करवाई और फिर उसे पकड़ा.

पुलिस ने बताया कि सलीम महादेवपुरा में 2 साल से चोरियां कर रहा था.