देश की आर्थिक राजधानी मुंबई को सोमवार सुबह ज़बदस्त करंट लगा है. दरअसल, मुंबई महानगरीय क्षेत्र में ग्रिड फ़ेल होने से शहर भर की बिजली गुल हो गई. इसका असर मुंबई की लाइफ़लाइन कहलाने वाली लोकल ट्रेनों भी पड़ा है. तमाम यात्री रास्तों में ही फंसे हैं. महाराष्ट्र सरकार के मंत्रालय, ऑफ़िस, अस्पताल भी प्रभावित हुए हैं. मुंबई यूनिवर्सिटी ने भी सोमवार को होने वाली परीक्षा को स्थगित कर दिया है, अब 18 अक्टूबर को इसका आयोजन होगा.

बता दें, कलवा स्थित टाटा पावर के सेंट्रल ग्रिड के फ़ेल होने के कारण बिजली आपूर्ति बाधित हुई है. मुंबई में 360 मेगावाट की आपूर्ति प्रभावित हुई है. बृहनमुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाइ ऐंड ट्रांसपोर्ट (BEST) ने ट्वीट कर कहा है, 'टाटा इनकमिंग की इलेक्ट्रिक आपूर्ति बाधित होने से शहर को बिजली नहीं मिल पा रही है. असुविधा के लिए ख़ेद है.'

ये संकट कितना बड़ा है, इसका अंदाजा आप इससे लगा लीजिए कि ग्रिड फ़ेल होने के बाद पूरे साउथ, सेंट्रल और नॉर्थ मुंबई की बिजली ग़ायब हो गई है. ठाणे और नवी मुंबई तक में इसका असर देखा जा रहा. इस वजह से वेस्टर्न लाइन की रेलवे भी प्रभावित हुई है. चर्चगेट से वसई तक तो ट्रेन सेवा ठप पड़ गई है, ऐसे में लोग लोकल को छोड़कर पैदल ही अपने गंतव्य की ओर निकल चुके हैं.

क़रीब 2 घंटे से मुंबई में ब्लैक आउट है. हालांकि, बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) प्रमुख ने घोषणा की कि 10 मिनट के अंदर बिजली वापस आ जाएगी.  मुंबई वासी पावर कट को लेकर सोशल मीडिया पर अपना रिएक्शन दे रहे हैं. 

मीमबाज़ों को यहां भी नहीं चैन