प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के ज़रिए विपक्षी दलों के साथ हुई. इस बैठक की इस बैठक में लॉकडाउन बढ़ाने के संकेत मिले हैं. बताया जा रहा है कि बैठक में पीएम मोदी ने कई सुझाव दिए और विपक्षी दलों ने भी लॉकडाउन बढ़ाने को लेकर उनके सामने अपने विचार रखे. ऐसे में कहा जा रहा है कि ऐसा लॉकडाउन बढ़ना संभव है.

इस बीच उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने बड़ा कदम उठाया है. योगी सरकार ने यूपी के 15 सबसे अधिक कोरोना से संक्रमित ज़िलों के हॉटस्पॉट को बुधवार रात 12 बजे से 30 अप्रैल तक सील करने का फ़ैसला किया गया है.

यूपी सरकार ने जिन 15 ज़िलों को सील करने का फ़ैसला लिया है वो हैं लखनऊ, आगरा, गाज़ियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, फ़िरोज़ाबाद, महाराजगंज, सीतापुर और सहारनपुर. इन दौरान इन 15 ज़िलों के हॉटस्पॉट जगहों को चिन्हित कर उन्हें 13 अप्रैल तक के लिए पूरी तरह से सील करने का फ़ैसला किया गया है.

Source: change

इस दौरान दुकानें, पेट्रोल पंप, एटीएम सभी बंद रहेंगे. चिन्हित इलाकों में लोग सिर्फ़ कंट्रोल सेंटर में फ़ोन करके सामान मंगवा सकते हैं. ऐसे में ये साफ़ हो गया है कि सिर्फ़ दुकान वाले ही सामान आपके घर तक पहुंचा पाएंगे, ग्राहक अपने घर से बाहर नहीं जा सकते हैं. अब इन ज़िलों के हर चौक चौराहों, व नुक्कड़ को भी सील कर वहां पुलिस तैनात कर दी जाएगी.

Source: nationalheraldindia

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार त्रिपाठी ने कहा कि यूपी में तबलीगी जमात में बहुत सारे लोगों में कोरोना के पॉजीटिव रिपोर्ट आयी है. उनके नाते संक्रमण बहुत तेज़ी से बढ़ा है. राज्य में 340 लोगों की रिपोर्ट पॉज़िटिव आयी है. जिस तरह से यूपी में कोरोना के मामले बढे हैं उसके लिए तबलीगी जमात के लोग भी ज़िम्मेदार हैं.

Source: indiatoday

सील का मतलब आवश्यक सेवाओं को छोड़कर किसी को भी कर्फ़्यू पास जारी नहीं किये जाएंगे. सिर्फ़ ज़रूरी सेवाओं के अलावा किसी को भी घर से निकलने की इजाज़त नहीं होगी. जिन लोगों को पास जारी किए गए थे उन्हें निरस्त किया जाएगा.अब सिर्फ़ स्वस्थ्य, पुलिस व अन्य बहुत अति आवश्यक कार्यों में लगे लोगों का ही पास नया बनेगा. इन ज़िलों के बॉर्डर भी पूरी तरह से सील कर दिए जाएंगे.

Source: mumbailive

इसके साथ ही पंजाब सरकार ने भी जारी कर्फ़्यू को 30 अप्रैल तक बढ़ने का फ़ैसला लिया है. पंजाब सरकार ने ही सबसे पहले अपने राज्य में कर्फ़्यू की घोषणा की थी. अब इसे 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है.