प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया पर अक्सर काफ़ी एक्टिव रहते हैं, लेकिन वो अब सोशल मीडिया से दूरी बनाने की सोच रहे हैं.

Source: theweek

दरअसल, पीएम मोदी ने सोमवार सुबह रात अपने ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट करते हुए लिखा 'सोच रहा हूं इस रविवार से अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट्स फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब छोड़ दूं'.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस समय ट्विटर पर 5 करोड़ 33 लाख से भी ज़्यादा लोग फ़ॉलो करते हैं. फ़ेसबुक की बात करें तो पीएम मोदी को 4 करोड़ 47 लाख से भी ज़्यादा लोग फ़ॉलो करते हैं जबकि इंस्टाग्राम पर उनके 3 करोड़ 52 लाख फ़ॉलोअर्स हैं. इसके साथ ही मोदी की लोकप्रियता यूट्यूब पर भी कम नहीं है. यूट्यूब पर उनके 4 करोड़ 51 लाख सब्सक्राइबर्स हैं.

Source: timesofindia

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ कहें और विपक्ष उस पर प्रतिक्रिया न दे ऐसा कैसे हो सकता है-

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी के ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए कहा, नफ़रत छोड़िए, ना की सोशल मीडिया.

इसके बाद राहुल गांधी के ट्वीट को त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने री-ट्वीट करते हुए टिप्पणी की, तो क्या यही वजह है कि सोनिया गांधी का किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर कोई अकाउंट नहीं है?

राहुल गांधी ही नहीं इन तमाम नेताओं ने भी पीएम मोदी के सोशल मीडिया छोड़ने की बात पर अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं-

ट्विटर यूज़र्स #NoSir #NarendraModi #Social Media हैशटैग के साथ अपनी प्रतिक्रियाएं पोस्ट कर रहे हैं.

हालांकि, पीएम मोदी ने अपने इस इरादे की कोई वजह तो नहीं बताई है, लेकिन इन दिनों लोगों द्वारा लगातार सोशल मीडिया का ग़लत इस्तेमाल इसकी मुख्य वजह हो सकती है.