(Pulitzer Prize Winners 2022) : पुलित्ज़र पुरस्कार- 2022 की घोषणा हो चुकी है. जिसमे भारत के 4 रॉयटर्स फ़ोटोग्राफ़र्स को उनके कोविड-19 की कुछ दिल दहला देने वाली तस्वीरों के लिए सम्मानित किया गया है. बता दें कि, पुलित्ज़र पुरस्कार पत्रकारिता के क्षेत्र में सबसे बड़ा पुरस्कार माना जाता है. यह पुरस्कार संयुक्त राज्य अमेरिका में दिया जाने वाला सबसे अहम पुरस्कार है. बीते कुछ सालों में भारत के कई लोग हैं, जिन्हें ये पुरस्कार मिला है. जिसमें से सबसे पहले भारतीय विजेता का नाम "गोबिंद बिहारी लाल" था. जो एक अमेरिकी-भारतीय पत्रकार और एक्टिविस्ट थे. चलिए इसी क्रम में आज हम आपको 2022 की जारी हुई पुलित्ज़र पुरस्कार के विजेता और उनकी अवॉर्ड विनिंग तस्वीरों के बारे में बताएंगे.

आइये, जानते हैं क्या है पुलित्ज़र पुरस्कार और 2022 में किसे मिला ये पुरस्कार (Pulitzer Prize Winners 2022).

pulitzer
Source: nytimes

यह पुरस्कार पत्रकारिता के क्षेत्र का सबसे अहम और बड़ा पुरस्कार माना जाता है. जो हंगरी के रहने वाले समाचार पत्र पब्लिशर "जोसेफ़ पुलित्ज़र" के नाम है. दरअसल, उन्होंने अपनी वसीयत में कोलंबिया यूनिवर्सिटी को स्कूल और पुरस्कार शुरू करने के लिए 2,50,000 डॉलर दिए थे. यह पुरस्कार संयुक्त राज्य अमेरिका का सबसे बड़ा पुरस्कार माना जाता है. जिसे पहली बार 1917 में दिया गया था. 

ये भी पढ़ें: Pulitzer पुरस्कार जीत चुकीं ये 17 तस्वीरें विश्व इतिहास की कई घटनाओं का दर्द बयां कर रही हैं

जानते हैं 2022 में किसे मिला ये पुरस्कार (Pulitzer Prize Winners 2022).

2022 में रॉयटर्स के 4 फ़ोटोग्राफ़र्स को कोविड के भयावह तस्वीरों को कैमरा में क़ैद कर लोगों और मीडिया तक पहुंचाने के लिए इस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है.

1- दिवंगत दानिश सिद्दीकी

danishsiddiqui
Source: wikipedia

दानिश का जन्म 19 मई 1983 में हुआ था. वो रॉयटर्स के चीफ़ फ़ोटो पत्रकार थे. जिनकी 2021 में दर्दनाक मृत्यु हो गयी. बता दें कि, सिर्फ़ 2022 में ही नहीं बल्कि दानिश को 2018 में 'रोहिंग्या शरणार्थी क्राइसिस' के लिए पुलित्ज़र पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. दानिश ने ऐसे बहुत से भयावह दृश्य को निडर हो के अपने कैमरा में क़ैद किया था. लेकिन, 2021 में अफ़ग़ानिस्तान सिक्योरिटी फ़ोर्स और तालिबान फ़ोर्स के तनाव के बीच, उस पूरी घटना को कवर करते वक़्त उनकी मृत्यु हो गयी. चलिए, देखते हैं दानिश की पुलित्ज़र अवॉर्ड विनिंग तस्वीरों को-

danish
Source: pulitzer
danish
Source: pulitzer
danish
Source: pulitzer
danish
Source: pulitzer
danish
Source: pulitzer
danish
Source: pulitzer

2- सना इरशाद मट्टू 

sana
Source: thekashmirpress

सना कश्मीर की रहने वाली एक फ़ोटो पत्रकार और डॉक्यूमेंट्री फ़ोटोग्राफ़र हैं. सना समाचारों से लेकर देश में चल रहे मुद्दों पर स्टोरीटेलिंग करती हैं. उनकी लिखी ख़बरें दुनिया के कोने-कोने तक पहुंचती हैं. सना कश्मीर में चल रहे तनाव और सामान्यता पर लिखना और उस से जुड़ी घटनाओं को कवर करती हैं. साथ ही साथ वो रॉयटर्स में एक मल्टीमीडिया पत्रकार का काम भी करती हैं. चलिए, देखते हैं सना की पुलित्ज़र अवॉर्ड विनिंग तस्वीरों को-(Pulitzer Prize Winners 2022)

sana
Source: pulitzer

3- अमित दवे

amit dave
Source: maktoomedia

अमित दवे भारतीय फ़ोटो पत्रकार हैं. जिन्हें पत्रकारिता में 30 सालों का तजुर्बा है. उनका करियर एक लोकल न्यूज़पेपर में फ़ोटोग्राफ़र के तौर पर शुरू हुआ था. जिसके बाद उन्होंने इंडियन एक्सप्रेस में काम किया. फिर 2002 में उन्होंने रॉयटर्स में एंट्री की. जहां उन्होंने गुजरात का भूकंप, दक्षिण भारत में इंडियन महासागर सुनामी जैसी कई घटनाओं को कवर किया है. चलिए, देखते हैं अमित की पुलित्ज़र अवॉर्ड विनिंग तस्वीरों को- 

amitdave
Source: pulitzer

4- अदनान अबिदी

adnan
Source: pulitzer

अदनान एक पुलित्ज़र पुरस्कार विजेता फ़ोटो पत्रकार हैं. जिन्होंने अपना करियर 1997 में एक डार्करूम असिस्टेंट के तौर पर शुरू किया था. अदनान ने पैन-एशिया न्यूज़ एजेंसी (PANA), प्रेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया (PTI), इंडो फ़ोटो न्यूज़ जैसे जगहों पर काम किया है. जिसके बाद 2005 में उन्होंने रॉयटर्स में काम करना शुरू किया. उन्हें 2018 में 'रोहिंग्या एक्सोडस' और हॉन्ग-कॉन्ग विरोध 2020 के लिए पुलित्ज़र पुरस्कार भी मिला है. अब वो रॉयटर्स में सीनियर फ़ोटोग्राफ़र के तौर पर काम करते हैं. चलिए, देखते हैं अदनान की पुलित्ज़र अवॉर्ड विनिंग तस्वीरों को- (Pulitzer Prize Winners 2022)  

adnan
Source: pulitzer
adnan
Source: pulitzer
adnan
Source: pulitzer
adnan
Source: pulitzer
adnan
Source: pulitzer