किसान आंदोलन जहां एक ओर बढ़ता ही जा रहा है, वहीं रोज़ाना कई बड़ी-बड़ी हस्तियां किसानों के समर्थन में एकजुट हो रही हैं. किसानों का साथ देने के लिए अब पंजाब जेल के डीआईजी लखविंदर सिंह जाखड़ आगे आए हैं, उन्होंने किसानों का समर्थन करते हुए अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है. अपने इस्तीफ़े में लिखा,

मैं पहले एक किसान हूं और बाद में एक पुलिस अधिकारी हूं. आज मुझे जो भी पद मिला है, वो इसलिए है क्योंकि मेरे पिता ने खेतों में एक किसान के रूप में काम किया और उसी से मेरी पढ़ाई-लिखाई कराई. इसलिए मेरा सबकुछ इस खेती पर क़ुर्बान है.

                    - लखविंदर सिंह जाखड़

 punjab dig resigned in protest against government
Source: sentinelassam

पत्रकारों से बात करते हुए डीआईजी जाखड़ ने कहा, ANI द्वारा उद्धृत, 

किसान लंबे समय से कृषि क़ानून के ख़िलाफ़ शांतिपूर्वक विरोध कर रहे हैं, किसी ने उनकी समस्याओं को नहीं सुना. मैं एक अनुशासित बल से हूं और नियमों के अनुसार, अगर मैं ड्यूटी पर हूं तो मैं विरोध का समर्थन नहीं कर सकता. इसलिए मुझे पहले अपनी नौकरी के बारे में फ़ैसला करना चाहिए फिर आगे की कार्रवाई पर एक्शन लेना चाहिए.

                    - लखविंदर सिंह जाखड़

 punjab dig resigned in protest against government
Source: trendsmap

उन्होंने मीडिया को बताया कि उनकी मां ने उन्हें इस्तीफ़ा देने के लिए प्रोत्साहित किया ताकि दिल्ली में किसानों का सहयोग कर सकें.

आपको बता दें, 56 वर्षीय जाखड़ जिन्हें मई में जेल अधिकारियों से मासिक रिश्वत लेने के आरोप में निलंबित कर दिया गया था, दो महीने पहले बहाल कर दिया गया. इसके अलावा 2012 में जाखड़ ने उस समय सुर्खियां बटोरी थीं जब वो पटियाला जेल के अधीक्षक के रूप में सेवा कर रहे थे और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के हत्यारे बलवंत सिंह राजोना की मौत का वारंट वापस कर दिया था.