दशहरा, दुर्गापूजा, दीपावली और छठ पर्व को देखते हुए इंडियन रेलवे ने 15 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच देश भर में 200 नई ट्रेनें चलाने का फ़ैसला किया है. इन ट्रेनों में सबसे अधिक बिहार, झारखंड और बंगाल के लिए होगी. रेलवे ने फिलहाल सभी सामान्य यात्री ट्रेनों को अनिश्चितकाल के लिए रद्द कर दिया है. 

Source: ttgasia

बता दें कि लॉकडाउन खुलने के बाद रेलवे ने 12 मई से दिल्ली को देश के विभिन्न भागों से जोड़ने वाली 15 स्पेशल 'राजधानी एक्‍सप्रेस' ट्रेनों का संचालन किया था, जबकि 1 जून से लंबी दूरी की 100 ट्रेनों का संचालन शुरू किया था. इसके आलावा रेलवे 12 सितंबर से रेलवे 80 अतिरिक्त ट्रेनें भी चला रहा है. 

Source: livemint

फ़ेस्टिव सीज़न में चलेंगी 200 ट्रेनें 

रेलवे द्वारा त्यौहारों के इस सीज़न में 200 विशेष ट्रेनों के संचालन से यात्रियों को काफ़ी राहत मिलेगी. ट्रेनों की संख्या और टाइम टेबल तय होने के बाद ही जल्द ही बुकिंग शुरू की जाएगी. 17 अक्टूबर से 'Tejas Express' भी फिर से पटरी पर दौड़ती नज़र आएगी.

Source: business

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और सीईओ विनोद कुमार यादव का कहना है कि, जहां तक यात्री ट्रेनों की बात है, हम ट्रेनों की ज़रूरत, रेल ट्रैफ़िक और कोविड-19 के हालात की रोज समीक्षा करेंगे. जहां भी ज़रूरत होगी, हम ट्रेनें चलाएंगे. फिलहाल हमारा अनुमान है कि क़रीब 200 ट्रेनें चलेंगी, लेकिन ये संख्या बढ़ भी सकती है. 

Source: dnaindia

रेलवे एक साथ ट्रेनों के संचालन की बजाय ज़रूरत के अनुसार हर रोज दो चार ट्रेनें शुरू कर रहा है. क्योंकि कोरोना काल में बहुत सारे चीजों का ध्यान रखना पड़ता है. इस दौरान भारतीय रेल यात्रियों की सुरक्षित यात्रा के लिए भी अभियान चला रही है और स्टेशनों और ट्रेनों में जरूरी जानकारी दी जा रही है।