'सरकारें आती हैं, सरकारें जाती हैं, पर इससे एक मंत्री पर कोई फ़र्क नहीं पड़ता. क्योंकि वो हर सरकार में मंत्री पद संभालने के लिये तैयार रहता है. यही नहीं, पूरा देश इन्हें मौसम वैज्ञानिक के नाम से भी जानता है. मौसम वैज्ञानिक इसलिये, क्योंकि इन्हें सत्ता में आने वाली हर सरकार की भनक पहले पड़ जाती है और ये दांव-पेंच खेलकर आने वाली सरकार में शामिल हो जाते हैं. कमाल की बात ये है कि महाभारत के 'संजय' की तरह अपनी दूरदर्शिता से वो हर कैबिनेट का हिस्सा बन ही जाते हैं.

Source: prokerala

नाम है राम विलास पासवान!

पीएम मोदी की कैबिनेट का हिस्सा बनने वाले राम विलास पासवान को खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय की ज़िम्मेदारी दी गई है. पासवान साहब राजनीति में लगभग 50 वर्षों से एक्टिव हैं और राजनीति में खेला गया इनका हर पैंतरा करीब-करीब सही साबित होता है. साथ ही वो ऐसे पहले नेता हैं जिन्होंने केंद्र में सबसे अधिक बार मंत्री बनने का रिकॉर्ड बनाया है.

Source: deccanherald

खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री के बारे में कुछ रोचक जानकारियां:

1. अपने राजनीतिक करियर में राम विलास पासवान अब तक 6 प्रधानमंत्रियों की कैबिनेट का हिस्सा बन चुके हैं.

2. 1977 में पासवान ने जनता पार्टी की सदस्यता हासिल कर हाजीपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा और जनता ने उन्हें इतने अधिक वोटों से जिताया कि इनका नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया.

3. 1989 में पहली बार उन्हें वीपी सिंह की कैबिनेट में श्रम मंत्री दर्जा मिला.

Source: cloudfront

4. पासवान 1996 से 1998 के बीच देवगौड़ा सरकार में भी मंत्री रहे थे.

5. साल 1999 से 2001 के बीच जब एनडीए की सरकार सत्ता में आई उस समय में पासवान मंत्री रहे.

6. एनडीए के दूसरे कार्यकाल में भी 2001 से 2002 के बीच पासवान मंत्री बने.

Source: livemint

7. पासवान यहीं नहीं रुके, साल 2004 में यूपीए जब सत्ता में आई, वो उस समय भी केंद्र में मंत्री रहे.

8. वहीं यूपीए के दूसरे कार्यकाल में पासवान और कांग्रेस के रिश्तों में दरार आ गई. इस दौरान उनकी पार्टी को हार का मुंह भी देखना पड़ा. ख़ैर, एक साल के भीतर ही लालू प्रसाद यादव ने उन्हें राज्यसभा पहुंचा दिया.

9. राज्यसभा पहुंचने के बाद जैसे ही पासवान जी को ये एहसास हुआ कि देश में मोदी लहर है, वो बीजेपी में शामिल हो गये और 2014 में मोदी कैबिनेट का हिस्सा बन गये.

Source: indianexpress

10. 2019 एक बार फिर से मोदी ब्रिगेड का हिस्सा बन खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय की कमान संभालने को तैयार हैं.

अब देखना ये है कि 2024 तक राम विलास पासवान मोदी सरकार में टिकेंगे या फिर आने वाली सरकार को भांपते हुए ख़ुद को पार्टी से अलग कर लेंगे. ख़ैर, अब जो भी है सब बढ़िया है. हमारी तरफ़ से पासवान साहब को नई शुरूआत के लिये बधाई और आशा है कि इस बार वो जनता के लिये कुछ ख़ास और नया करेंगे.