बिहार के बाद अब हरियाणा के चूहे भी नशेड़ी हो गए हैं. कम्बख़्तों ने पुलिस की नाक के नीचे से हज़ारों लीटर शराब ग़ायब कर दी है. दिलचस्प बात ये है कि ऐसा एक-दो थानों में नहीं हुआ, बल्कि फ़रीदाबाद के 25 अलग-अलग थानों में रखी 29 हज़ार लीटर शराब चूहे गटक गए हैं. ये हम नहीं कह रहे, बल्कि हरियाणा पुलिस का दावा है.

Source: viralsanid

दरअसल, पुलिस ने क़रीब 50,000 लीटर देसी शराब, 30,000 लीटर अंग्रेज़ी शराब और 3,000 कैन बीयर ज़ब्त की थी. पुलिस ने ज़ब्त शराब के संबंध में 825 मामले भी दर्ज किए थे. अब ये सामान्य प्रोटोकॉल होता है कि जब तक मामला अदालत में होगा, तब तक ज़ब्त शराब को थानों के मालखाने में स्टोर किया जाता है. बाद में इन्हें नष्ट कर दिया जाता है. 

Source: oneindia

पुलिस का दावा है कि स्टोर रूम में रखी शराब को चूहे पी गए हैं. मज़ेदार बात ये है कि देसी उत्पादों के प्रति अपनी निष्ठा दिखाते हुए चूहों ने सबसे ज़्यादा देसी शराब की बोतलों को काटा है. इसके पीछे एक कारण ये है कि देसी शराब की बोतलें प्लास्टिक की होती हैं. वहीं, कच्ची शराब को प्लास्टिक के कंटेनर में स्टोर किया जाता है. दोनों को मिलाकर चूहे 20 हज़ार लीटर शराब पी गए या उनके काटने से शराब बह गई.

Source: chorbie

इस पूरे कांड के लिए पुलिस ने चूहों को ज़िम्मेदार ठहराया है. हालांकि, 20 हज़ार लीटर का हिसाब एक बार फिर समझ में आता है, क्योंकि ये प्लास्टिक की बोतलों और कंटेनर में जमा थी. लेकिन 9 हज़ार लीटर अंग्रेज़ी शराब शीशे की बोतलों में थी. उसे चूहे काट जाएं, ये बात हज़म करना मुश्किल है. हालांकि, पुलिस की माने तो ऐसा ही हुआ है. फ़िलहाल, मामले की जांच जारी है.