हैप्पी बर्थडे!  

कर्नल पृथ्वीपाल सिंह गिल. 1965 में भारत-पाक के बीच हुई जंग में वीरों की तरह लड़ने वाले कर्नल साहब आज 100 साल के हो गये हैं. हममें से कई लोग होंगे जिन्हें कर्नल पृथ्वीपाल के बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं होगी. कर्नल पृथ्वीपाल सिंह गिल देश के उन चंद वीर सैनिकों में से एक हैं, जिन्होंने वायुसेना, थलसेना और भारतीय नौसेना, तीनों को अपनी सेवाएं दी हैं. 

Col Prithipal Singh Gill
Source: tv9marathi

कर्नल को लेकर बहुत सी बातें कहीं जाती हैं. हज़ारों बातों में एक सच ये भी है कि अंग्रेज़ों के ज़माने में वो घरवालों से पूछे बिना रॉयल इंडियन एयरफ़ोर्स में दाखिल हो गये थे. इस दौरान उन्होंने कराची में बतौर पायलट काम किया. हॉवर्ड एयरक्राफ़्ट उड़ाने वाले कर्नल ने ज़िंदगी के 100 साल पूरे करने पर सोशल मीडिया पर अपनी फ़ोटो शेयर की है.

तस्वीर शेयर करते हुए वो लिखते हैं कि 'कर्नल पृथ्वीपाल सिंह गिल- 100 नॉट आउट.' कहते हैं कि वीर कर्नल गिल को पहले भारतीय नौसेना में स्थानांतरित किया गया था. जहां उन्होंने स्वीपिंग शिप और आईएनएस तीर में अपना दमख़म दिखाया. वहीं द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान उनको मालवाहक पोतों पर नज़र रखने की ज़िम्मेदारी सौंपी गई. देश की सेवा करते हुए उन्हें थल सेना के लिये काम करने का मौक़ा भी मिला. अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने ग्वालियर माउंटेन बैटरी लाइन और मणिपुर में असम राइफ़ल्स के साथ काम किया. 

कर्नल पृथ्वीपाल सिंह गिल आप जियो हज़ारो साल हम सबकी तरफ़ से यही दुआ है आपके लिए.