दुनिया बड़ी ज़ालिम है. कोई ईमान नाम की चीज़ ही नहीं बची. न धंधे में कोई उसूल बचा है न ही आपुस वाली बात ही रह गई है. अब बताइए मुंबई से एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसने चोर जगत के स्वर्णिम इतिहास पर कालिख पोत कर रख दी. आपने चोर की दाढ़ी में तिनका तो सुना होगा लेकिन चोर के घर में चोरी? हाए तौबा! यक़ीन नहीं हो रहा न, पर ये हुआ है.  

Source: gladstoneobserver

सच कह रिया हूं. कलयुगी कलमुहे चोरों ने मुंबई में एक चोर के घर ही सेंधमारी कर डाली. The Times of India की रिपोर्ट के मुताबिक़, 45 वर्षीय लुटेरे शहादुल्लाह बाबू का घर मुंबई के चेंबूर में है, जिसे चोरों ने लूट लिया.   

Mumbai Mirror की रिपोर्ट के मुताबिक़, शहर में एक इलेक्ट्रॉनिक्स स्टोर को लूटने के मामले में शहादुल्लाह समेत 7 लुटेरों को गिरफ़्तार किया गया था, लेकिन इनमें से 5 कोरोना पॉज़िटिव निकले. जिसके बाद इन्हें मानवीय आधार पर ज़मानत दी गई.  

Source: dribbble

इन पांचों को परिवार समेत क्वारंटीन सेंटर भेज दिया गया. परिवार के जाने के बाद पूरा घर ख़ाली हो गया. बस यहीं चोरों की नियत डोल गई और चोर-चोर का न रहा. ऐसे मुश्क़िल वक़्त में चंदा-वंदा जमाकर साथी जमात वाले की मदद करने के बजाय ससुरों ने उसका ही घर लूट लिया. अमा मतलब गीता में ग़लती से लिख दिया भगवान ने कर्म का फल वगैरह... तो क्या सच में ही मासूम के साथ कांड कर डालोगे यार. हद है!  

ख़ैर, चोर भले ही अपना धर्म भूल गए लेकिन पड़ोसियों ने अपना धर्म निभाया. चोर को फ़ोन कर घर में चोरी की जानकारी दी, जिसके बाद चोर ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.   

Source: dnaindia

लुटेरी न्यूज़ के फ़र्जी सूत्रों के मुताबिक़, चोर समुदाय में इस घटना को लेकर भारी ग़ुस्सा है. उनके मुख्य प्रवक्ता ने साफ़ कर दिया है कि चोर समाज में इस तरह की चोरी नियमानुसार नहीं है. वहीं, सुनने में ये भी आ रहा है कि कुछ नेताओं ने भी पार्लियामेंट का स्पेशल सेशन बुलाने की मांग की है. उनका कहना है कि वो अपने अधिकार क्षेत्र में इस तरह का अतिक्रमण कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे.   

बताया गया कि चोर के घर से 4.5 लाख रुपये और ढाई लाख का सोना चोरी हुआ है. पुलिस ने चोर के घर चोरी का मामला दर्ज कर लिया है. चोरों की तलाश की जा रही है.