Oxford ने 'संविधान'(Constitution) को साल 2019 का Oxford हिंदी शब्द चुना है. Oxford University की प्रेस द्वारा जारी किए गए बयान के अनुसार, पहले ये शब्द सिर्फ़ न्यायालय, न्यायाधीश, वक़ील, राजनेताओं आदि तक ही सीमित रहता था. मगर पिछले साल इस शब्द ने आम लोगों में जिस तरह से अपनी पैठ बनाई है. इसी से प्रभावित हो कर इसे साल 2019 का हिंदी शब्द चुना गया.

Oxford Languages ने अपने ऑफ़िशियल ट्विटर अकांट पर भी इसकी जानकारी साझा की है. इस संदर्भ में एक प्रेस रिलीज़ भी जारी की गई है. इसमें संविधान शब्द को 2019 का Oxford हिंदी शब्द क्यों चुना गया है, इसके बारे में विस्तार से बताया गया है.

Source: scroll

इसके मुताबिक, संवैधानिक सिद्धांतों का प्रभाव पिछले साल भारतीय समाज पर व्यापक स्तर पर देखा गया है. इस संदर्भ में उन्होंने कुछ उदाहरण भी दिए हैं, जैसे 2019 में हुए आम चुनावों में भारत की जनता द्वारा लोकतांत्रिक सरकार का चुनना, कर्नाटक में सांसदों की अयोग्यता पर संवैधानिक प्रावधानों की चर्चा हुई, जम्मू-कश्मीर में से जब धारा 370 हटाई गई, तब भी संविधान शब्द जनता द्वारा ख़ूब इस्तेमाल किया गया आदि.

Oxford University ने बताया कि संविधान शब्द को चुनने से पहले इसे साल 2019 में लोकतंत्र, धर्मनिरपेक्षता, न्याय, स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व जैसी कसौटियों पर परखा गया. इसके लिए उन्होंने जनवरी 2020 में हिंदी शब्दों के सुझाव अपने सोशल मीडिया अकाउंट द्वारा मंगाए थे. इसमें शामिल हज़ारों शब्दों में से संविधान शब्द को भाषा के विशेषज्ञों ने 2019 का Oxford हिंदी शब्द चुना है.

Source: brainly

इस प्रेस रिलीज़ में संविधान को परिभाषित करते हुए बताया गया कि, ‘संविधान’ किसी राष्ट्र या संस्था द्वारा निर्धारित किए गए वो लिखित नियम होते हैं, जिसके आधार पर उस राष्ट्र या संस्था का सुचारु रूप से संचालन किया जा सके.’

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 2018 में 'नारी शक्ति' को Oxford हिंदी शब्द चुना गया था.


Newsके और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.