बीते दिनों मुंबई में शिवसेना नेता नितिन नंदगांवकर ने शहर की प्रसिद्ध 'कराची स्वीट्स' के मालिक को दुकान के नाम से 'कराची' शब्द हटाने की चेतावनी दी थी. इसके बाद 'कराची स्वीट्स' के मालिक ने दुकान के नाम को पेपर से ढक दिया था. 

Source: twitter

इस मामले में विवाद बढ़ने पर अब शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत 'कराची स्वीट्स' के समर्थन में उतर आए हैं. मामले को बढ़ता देख शिवसेना ने कार्यकर्ता की इस हरकत से किनारा करना शुरू कर दिया है. 

Source: twitter

संजय राउत ने कहा, 'कराची बेकरी' और 'कराची स्वीट्स' मुंबई में 60 सालों से हैं, दुकान के मालिक का पाकिस्तान से कोई लेना-देना नहीं है. दुकान का नाम बदलने की मांग करना बेमतलब है. नाम बदलने की मांग शिवसेना का आधिकारिक रुख नहीं है. 

शिवसेना नेता का धमकी भरा वीडियो हुआ वायरल 

पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर शिवसेना नेता नंदगांवकर का एक वीडियो काफ़ी वायरल हो रहा है, जिसमें वो बांद्रा वेस्ट स्थित 'कराची स्वीट्स' के मालिक को दुकान के नाम से 'कराची' शब्द हटाने को कह रहे हैं. इस दौरान दुकान के मालिक नंदगांवकर के सामने हाथ जोड़े नज़र आ रहे हैं.

नंदगांवकर ने 'कराची स्वीट्स' के मालिक को धमकी देते हुए कहा था कि, मैं कराची के नाम से नफ़रत करता हूं. पाकिस्तान का ये शहर आतंकियों का गढ़ है. तुम अपने पूर्वजों का नाम बैनर में लिख सकते हो, मैं उनका सम्मान करूंगा. तुम पाकिस्तान से आए थे, लेकिन ये तुम्हारा घर है, तुम्हें ये करना पड़ेगा. हम कारोबार को बढ़ाने में तुम्हारी मदद करेंगे. मैं तुम्हें मोहलत देता हूं, इसका नाम बदलकर मराठी में कुछ करो.