हमारे देश में कोरोना तेज़ी से फैल रहा है, भारत में दुनिया में सबसे बुरी तरह से प्रभावित देशों में भारत तीसरे नंबर पर आ गया है. पिछले 24 घंटे में 24,248 नए मामले सामने आए. ऐसे में अगर आप मास्क पहन कर, सबसे दूरी बना कर बाहर घूमते हैं तो संभलने की ज़रुरत है.  

Source: news24

32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को कोरोना वायरस के हवा के ज़रिये फैलने का दावा पेश किया. अपनी रिसर्च में वैज्ञानिकों ने पाया कि कोरोना वायरस के छोटे-छोटे कण हवा में भी जिंदा रहते हैं और वे लोगों को अपनी चपेट में ले सकते हैं. 

विश्व स्वास्थ्य संगठन हमेशा से इस बात से इंकार करता आया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार कोरोना वायरस हवा से ना फैल कर जिस व्यक्ति को कोरोना है उसके खांसने या छींकने के दौरान बाहर आयी संक्रमित बूंदों से फैलता है. 

Source: voanews

वैज्ञानिक इस शोध के पत्र को आने वाले महीनों में जर्नल में प्रकाशित करना चाहते थे लेकिन ये जानकारी मीडिया में लीक हो गयी. वैज्ञानिकों ने WHO से तुरंत ही गाइडलाइंस बदलने की मांग की है. 

वैज्ञानिकों का यह भी कहना है कि उन्हें लगता है कि वायरस हवा में लंबे समय तक रह सकता है और कई मीटर तक जा सकता है, जिससे आस-पास कोई भी संक्रमित हो सकता है. 

Source: edition

ऐसे में ज़रुरत इसी बात की है कि बिना किसी काम के आप घर से बाहर ना निकलें. बेवज़ह बाहर निकलकर सिर्फ़ आप सिर्फ़ ख़ुद को ख़तरे में नहीं डालते हैं बल्कि अपने घरवालों और आसपास के लोगों को भी ख़तरे में डालते हैं.