ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती के भाई शोविक चक्रवर्ती को कोर्ट ने क्लीन चिट दे दी है. सितंबर में 'नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो' (NCB) ने रिया और उनके भाई शोविक को सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग केस में अरेस्ट किया था. रिया को 28 दिन जेल में गुज़ारने के बाद ज़मानत मिल गई थी, जबकि शोविक की जमानत याचिका कई बार ख़ारिज़ हो गई थी.

Source: india

कोर्ट के मुताबिक़, शोविक पर ड्रग्स की ख़रीद-फ़रोख्त का केस नहीं बनता है. ड्रग्स रखने का मतलब ये नहीं है कि आरोपी अवैध ड्रग तस्करी में हिस्सेदार था या फिर उसने फ़ाइनेंसिंग की थी. इसी आधार पर स्पेशल एनडीपीएस कोर्ट ने शोविक को ज़मानत दी. आरोपी पर NDPS एक्ट का सेक्शन 27A लागू नहीं होता.

Source: bizasialive

3 महीने तक जेल में रहे शोविक 

शोविक को सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच में सामने आए ड्रग्स एंगल के बाद 4 सितंबर को अरेस्ट किया गया था. शोविक की गिरफ़्तारी ड्रग पैडलर अबदेल बासित परिहार के बयान के बाद हुई थी. 3 महीने बाद स्थानीय NDPS कोर्ट ने उसे जमानत दी है. इससे पहले हाईकोर्ट ने दो बार और सेशन कोर्ट से 2 बार उसकी जमानत याचिका ख़ारिज हो चुकी थी. 

Source: economictimes

दरअसल, शोविक चक्रवर्ती के वकील सतीश मानशिंदे के ज़रिए 4 नवंबर को दायर एक पुनरवलोकन याचिका में कहा गया था कि, शोविक से ड्रग्स बरामद नहीं नहीं की गई थी. NCB का एकमात्र सबूत सह अभियुक्तों का बयान है. एनसीबी ने रिया और सुशांत के रसोइया दीपेश सावंत और प्रबंधक सैमुअल मिरांडा को भी ड्रग्स मामले में गिरफ़्तार किया था. फिलहाल तीनों को जमानत दे दी गई है. 

Source: sentinelassam

बता दें कि सुशांत राजपूत केस में सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो जांच में जुटे हैं. हालांकि, इसी मामले में सुप्रीम कोर्ट में दोबारा याचिका लगाई गई है कि CBI केस में कहां तक पहुंची है.