शुक्रवार को न्यूज़ीलैंड की क्राइस्टचर्च मस्जिद में हुए आतंकी हमले के पूरा विश्व स्तब्ध है. इस हादसे में 49 लोगों की मौत हुई और 20 लोग बुरी तरह घायल हुए.  

ये उस देश में हुआ, जिसकी गिनती दुनिया के सबसे सुरक्षित राष्ट्रों में होती है. वहां की प्रधानमंत्री Jacinda Ardern ने इसे अपने देश के इतिहास का सबसे बुरा दिन बताया.  

आपको बता दें कि न्यूज़लैंड में एक बड़ी संख्या भारतीय भी रहते हैं. वहां रहने वाले सिख समुदाय ने Guru Nanak's Free Kitchen नाम के NGO की सहायता से हताहत हुए लोगों को काफ़ी मदद पहुंचाई है.  

लंगर के अलावा NGO के सदस्य, साफ़-सफ़ाई में मदद, घायल को अस्पताल पहुंचाने, मृत के लिए कब्र खोदने जैसे काम में हाथ बंटा रहे हैं. एक फ़ेसबुक पोस्ट के द्वारा वो अन्य समुदाय के लोगों को भी मदद करने के लिए बुला रहे हैं.  

ऐसे मौकों पर कई बार सिख समुदाय ने ये साबित किया है कि वो इंसानियत के सबसे बड़े पैरोकार हैं.