इंसानी जीवन के लिए मधुमक्खियों का जीवित रहना बेहद ज़रूरी है. पिछले कुछ सालों से दुनियाभर में मधुमक्खियों की कॉलोनियां समाप्त होती जा रही हैं. एक अनुमान के मुताबिक़ साल 2016 में मधुमक्खियों की 44% कॉलोनियां ख़त्म हो गई हैं.

इसी समस्या को देखते हुए McDonald’s ने स्वीडन में मधुमक्खियों के लिए एक मिनी आउटलेट की शुरुआत की है. दुनिया के इस सबसे छोटे आउटलेट को 'McHive' नाम दिया गया है. इस आउटलेट को पेड़-पौधों से घिरे एक घास के मैदान के बीच में रखा गया है, ताकि इंसानी बस्तियों से दूर मधुमक्खियां यहां बिना ख़तरे के रह सकें.

मधुमक्खियों को यहां पर किसी भी तरह की समस्या न आये इसलिए McDonald’s के इस मिनी आउटलेट को ख़ास तौर पर डिज़ाइन किया है. McDonald’s ने इसे डिज़ाइन करने की ज़िम्मेदारी ख़ासतौर पर अपने एक प्रोफ़ेशनल कारपेंटर को सौंपी थी.

McDdonald’s के दुनियाभर में कुल 37 हज़ार रेस्टोरेंट्स हैं, लेकिन ये अपने आप में यूनीक है.

Adweek से बातचीत में स्वीडन में McDonald’s के मार्केटिंग डायरेक्टर Christoffer Rönnblad ने कहा कि, 'ये अब तक की हमारी सबसे यूनिक क्रिएशन है. हमें ये देखकर अच्छा लगता है कि अब मधुमक्खियों को अपना घर बनाने के लिए पेड़ की टहनी या फिर लोगों के घरों की छत का सहारा नहीं लेना पड़ेगा'.

इसके साथ ही यूरोपीय संघ ने हाल ही में Neonicotinoids के इस्तेमाल पर भी पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है. दरअसल, इसका उपयोग कीटनाशकों के लिए किया जाता है, जो मधुमक्खियों की ज़िंदगी ख़तरे में डालने का काम करती है.

दरअसल, ये शानदार पहल स्वीडन को मधुमक्खी फ़्रेंडली देश बनाने की पहल है. साथ ही मधुमक्खियों को बचाने की एक जागरूक कोशिश भी.

यहां देखिये वीडियो: