कोरोना महामारी बढ़ती ही जा रही है. ऐसे में कोविड वॉरियर्स सैनिक अपनी जान को ख़तरे में डाल कर लोगों की सुरक्षित रखने में मदद कर रहे हैं मगर इसके चलते वो ख़ुद को ही ख़तरे में डाल रहे हैं. सरकार ने घोषणा की है कि कोरोना के चलते जो पैरामिलिट्री सैनिक ड्यूटी दे रहे हैं उनकी अगर कोरोना वायरस से मौत हो जाती है तो उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाएगा. 

Source: thewirehindi

जिन जवानों की जान कोरोना के चलते जाती है उनके परिवार वालों को 'भारत के वीर' फ़ंड से 15 लाख रुपए तक की सहायता दी जाएगी. 

इस संबंध में सुरक्षा बलों ने सरकार को ये प्रस्ताव भेजा था जिसे केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है.  

Source: navjivanindia

कोरोना शहीदों की सारी डिटेल्स 'भारत के वीर' पोर्टल पर अपलोड करने का काम शुरू कर दिया गया है. कोई यदि शहीद के परिजनों को सीधे मदद करना चाहता है तो उसके लिए उनकी अकाउंट डिटेले भी शेयर की जाएंगी और साथ ही साथ सीधे भारत के वीर फ़ंड में भी योगदान किया जा सकता है. 

क्या है भारत के वीर फ़ंड: 

Source: Google Play

साल 2017 में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शहीद जवानों के परिवार वालों की मदद के लिए पैसा जुटाने के लिए एक वेबसाइट और मोबाइल ऐप बनाया था जो आम जनता को भारतीय अर्धसैनिक बलों और सीएपीएफ के परिवार वालों के लिए योगदान करने की ऑनलाइन सुविधा प्रदान करती है. यहां पर सारे शहीद जवानों की डीटेल होती है.