एक अरसे से अंतर्राष्ट्रीय एथलेटिक्स के ट्रैक पर किसी भारतीय के हाथों में तिरंगा और विजयी मुस्कान को देखने के लिए पूरा देश तरस रहा था. इसे पूरा कर दिया है असम के एक किसान की बेटी हिमा दास ने. इन्होंने IAAF World Under-20 Athletics Championships में 400 मीटर स्पर्धा में गोल्ड जीतकर इतिहास रच दिया है.

indiatoday

हिमा दास किसी अंतर्राष्ट्रीय ट्रैक इवेंट में गोल्ड जीतने वाली पहली भारतीय बन गई हैं. कल से ट्विटर पर पूरी दुनिया में बस हिमा दास का ही नाम ट्रेंड कर रहा है. हिमा दास ने फ़िनलैंड में चल रही वर्ल्ड जूनियर एथेलेटिक्स चैंपियनशिप में ये कीर्तिमान स्थापित किया.

india.com

उनसे पहले किसी भारतीय महिला ने विश्व स्तर पर ट्रैक स्पर्धा में अब तक गोल्ड हासिल नहीं किया था. हिमा ने ये दौड़ 51.46 सेकेंड में पूरी की. 52.01 सेकेंड के साथ रोमानिया की एंड्रिया मिकलोस को सिल्वर और 52.28 सेकेंड की टाइमिंग के साथ अमरीका की टेलर मैंसन को ब्रोंज़ मेडल मिला.

18 वर्षीय हिमा ने हाल ही में गुवाहाटी में हुई अतंरराज्यीय चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था. उनके पिता एक किसान हैं, जो असम के नौगांव ज़िले में रहते हैं. इनके परिवार में 16 सदस्य हैं.

हिमा की इस कामयाबी पर उनके लिए बधाई संदेशों का तातां लग गया है. राष्ट्रपति से लेकर बॉलीवुड सेलेब्स तक ने उन्हें बधाई दी.

सभी को धन्यवाद कहते हुए हिमा ने अपने फ़ेसबुक अकाउंट पर लिखा – ‘इतना प्यार और सपोर्ट देने के लिए धन्यवाद. मुझे गर्व है कि मैं अपने देश के लिए गोल्ड जीत सकी. मैं आगे भी अपने देश के लिए मेडल लाने कि कोशिश करती रहूंगी.’

हिमा दास का व्यक्तिगत प्रदर्शन

100 मीटर -11.74 सेकेंड

200 मीटर -23.10 सेकेंड

400 मीटर -51.13 सेकेंड

4×400 मीटर रिले -3:33.6

हमें गर्व है हिमा दास पर… उम्मीद है कि वो आगे भी पूरी दुनिया में अपने देश का परचम लहराती रहेंगी.

Source: Ibtimes