दिल्ली के मुख्यमंत्री, अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर सैंकड़ों छात्र जाम हो गए और 'केजरीवाल बाहर आओ, हमसे बात करो' के नारे लगाने लगे.


India Today की रिपोर्ट के मुताबिक़, बीते मंगलवार और बुधवार रात को छात्र केजरीवाल के घर के बाहर जमा हुए और शहर में शांति स्थापित करने की मांग करने लगे.

Alumni Association of Jamia Islamia (AAJMI) और Jamia Coordination Committee (JCC) ने केजरीवाल के घर के सामने धरना प्रदर्शन किया और हिंसा के ज़िम्मेदारों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने की मांग की.

Source: Twitter

केजरीवाल के घर के बाहर विरोध करने वाले ख़ुद को चिंतित शहरवासी कह रहे थे. इनकी मांग थी कि मुख्यमंत्री, स्थानीय विधायकों के साथ मिलकर हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में जाएं.


प्रदर्शकों की ये भी मांग थी कि मुख्यमंत्रीो, हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में राहत के लिए दिल्ली सरकार द्वारा उठाए गए क़दमों के बारे में शहरवासियों को बताएं.

दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शकों को केजरीवाल के घर के सामने से जाने की अपील की लेकिन जब प्रदर्शक नहीं माने तो पुलिस ने वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया. जो लोग वॉटर कैनन के इस्तेमाल के बाद नहीं हटे उन्हें पुलिस ने डिटेन किया.

Source: Twitter
Source: Twitter

India Today से बात-चीत में छात्रों ने बताया कि कुछ छात्रों को चोटें भी आई हैं.


देर रात केजरीवाल ने अपने घर पर विधायकों और अफ़सरों की बैठक बुलाई.

दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 18 हो गई है, 150 से ज़्यादा लोगों के घायल होने की ख़बर है.