त्योहारों और मिठाइयों का कनेक्शन किसी से छुपा हुआ नहीं है. हर त्यौहार की एक स्पेशल मिठाई होती है. त्योहारों में बच्चे हों या बड़े, सब मिठाइयों के दीवाने रहते हैं. 

गुजरात में शरद पूर्णिमा के दूसरे दिन चंडी पड़वा (Chandi Padva) पर्व मनाया जाता है. इस त्यौहार की मिठाई है 'घारी'. इसीलिए इस दिन में गुजरात में घारी खायी जाती है.

Source: twitter

आमतौर पर यह मिठाई 660 से 820 रुपए प्रति किलो बिकती है मगर गुजरात के सूरत की एक मिठाई की दुकान में ये मिठाई 9000 रुपये प्रति किलो में बेची जा रहे है.

ये मिठाई मावा, शक्कर, देशी घी और ड्राई फ्रूट्स को मिलाकर तैयार की जाती है लेकिन इस मिठाई को बनाने वाले ने इसमें असली सोने की परत चढ़ा दी. इसका नाम भी दुकानदार ने 'गोल्ड घारी' दिया है. 

Source: twitter

दुकान के मालिक बताते हैं, "हमने इस साल 'गोल्ड घारी' लॉन्च किया है. यह हेल्थी है. आयुर्वेद में सोने को लाभकारी धातु माना गया है. इसे लॉन्च हुए तीन दिन हो गए हैं लेकिन बाज़ार सुस्त होने की वज़ह से अभी मांग कम है. हमें उम्मीद है आने वाले समय में इसको मांग बढ़ेगी."

Source: twitter