बीते गुरुवार राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री मोदी के साथ 57 मंत्रियों ने शपथ ली. इस बार पीएम मोदी की कैबिनेट में कुछ पुराने चेहरों के साथ-साथ 18 नये चेहरे भी दिखाई देंगे. हांलाकि, इस बार हम कुछ पुराने मंत्रियों को मिस ज़रूर करेंगे, जिनमें से एक जनता की फ़ेवरेट सुषमा स्वराज भी हैं. स्वास्थ्य का हवाला देते हुए इस बार पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था, जिस वजह से वो नई मोदी ब्रिगेड का हिस्सा नहीं बन पाई.

Source: ddnews

वहीं दूसरे कार्यकाल में शामिल मंत्रियों की शपथ के बाद सुषमा स्वराज ने पीएम मोदी के लिये एक विदाई संदेश लिखा है. पूर्व विदेश मंत्री ने पीएम का शुक्रिया अदा करते हुए लिखा, 'प्रधानमंत्री जी, आपने 5 वर्षों तक मुझे विदेश मंत्री के तौर पर देशवासियों और प्रवासी भारतीयों की सेवा करने का मौक़ा दिया और पूरे कार्यकाल में व्यक्तिगत तौर पर भी बहुत सम्मान दिया. मैं आपके प्रति बहुत आभारी हूं. हमारी सरकार बहुत यशस्विता से चले, प्रभु से मेरी यही प्रार्थना है.'

सुषमा स्वराज के इस ट्वीट के बाद कई लोग बेहद भावुक नज़र आये और कैबिनेट में बने रहने की गुज़ारिश की. कई लोग पूर्व विदेश मंत्री को वापस लाने की मांग भी कर रहे हैं.

वहीं सुषमा स्वराज के भावुक ट्वीट के बाद पीएम मोदी ने उनकी तारीफ़ में ट्वीट करते हुए लिखा, 'सुषमा जी आपने विदेश मंत्री रहते हुए बहुत अच्छे काम किये हैं. UN में आपका भाषण हो या पाकिस्तान को ललकारना, या यमन में फंसे भारतियों को घर वापस लाना हो. ऐसे अनेक यादगार काम किये हैं. मुझे उम्मीद है आप जल्द ही मोदी सरकार में वापस आओगी.'

थैंक्यू ट्वीट के बाद सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर अपना बायो भी चेंज कर लिया. वैसे, ये सच है कि हम सब सुषमा स्वराज के ज़िंदादिल काम और बुलंद आवाज़ को बहुत मिस करेंगे.