शुक्रवार को 'संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद' की बैठक में भारत के स्थायी प्रतिनिधि, सैयद अकबरुद्दीन ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के मसले पर भारत का पक्ष रखा. अकबरुद्दीन के साहसिक कदम से पाकिस्तान और चीन को एक बार फिर से मुंह की खानी पड़ी.   

Source: indiatvnews

इस मसले को लेकर सैयद अकबरुद्दीन ने मीटिंग ख़त्म होने के बाद प्रेस को संबोधित किया. इस दौरान अकबरुद्दीन से पाकिस्तान के पत्रकारों ने कुछ ऐसा पूछा जिसके जवाब में उन्होंने अपनी कूटनीतिक स्मार्टनेस से हर किसी का दिल जीत लिया.  

Source: dnaindia

अकबरुद्दीन के इस कदम की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ़ हो रही है.  

दरअसल, संवाददाता सम्मेलन में मौजूद पाकिस्तान के तीन पत्रकारों ने अकबरुद्दीन से पूछा कि आप पाकिस्तान के साथ बातचीत कब शुरू करेंगे? इसके बाद अकबरुद्दीन ने कहा, तो चलिए आपके साथ हाथ मिला कर इसकी शुरुआत कर देते हैं.  

अकबरुद्दीन ने कश्मीर पर 'संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद' की बैठक के बाद पाकिस्तान से कहा, "वार्ता शुरू करने लिये आतंकवाद ख़त्म कीजिये. आर्टिकल 370 को हटाना भारत का आंतरिक मामला है और इससे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का कोई सरोकार नहीं है. भारत कश्मीर पर हुए तमाम अंतर्राष्ट्रीय समझौतों का सही तरीके से पालन कर रहा है, जबकि पाकिस्तान जिहाद की बात कर भारत में हिंसा फैला रहा है".  

Source: livehindustan

दरअसल, चीन ने जम्मू-कश्मीर मसले पर 'संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद' की बैठक बुलाने की मांग की थी. चीन ने साथ ही मांग की थी कि बैठक बंद कमरे में होनी चाहिए, जबकि भारत और पाकिस्तान को 'संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद' का सदस्य नहीं होने के कारण इस बैठक में शामिल नहीं किया गया था. 

अकबरुद्दीन के इस कदम के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का रिएक्शन कुछ ऐसा था.