कोरोना महामारी के बीच विश्व प्रसिद्ध 'ताजमहल' और 'आगरा क़िले' को 21 सितंबर से पर्यटकों के लिए खोलने का निर्णय किया गया है. आगरा के ज़िलाधिकारी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है.

ताजमहल में रोज़ाना केवल 5 हज़ार पर्यटकों को, जबकि आगरा क़िले में 2500 पर्यटकों को ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. टिकटों की बुकिंग केवल ऑनलाइन होगी. ताजमहल में एंट्री के लिए कोरोना के नियमों (जैसे मास्क, सोशल डिस्टेंस) का पालन करना अनिवार्य है. इस दौरान ताजमहल के गेट पर 'थर्मल स्क्रीनिंग' की जाएगी. तापमान सही होने पर ही पर्यटकों को ताजमहल में प्रवेश दिया जाएगा.

Source: britannica

अनलॉक-4 के दौरान 1 सितंबर से सिकंदरा, फतेहपुर सीकरी और एतमादुद्दौला समेत छोटे स्मारकों को खोल दिया गया था. अब 21 सितंबर से 'ताजमहल' 'आगरा क़िले' का दीदार का इंतज़ार भी ख़त्म होने जा रहा है.

Source: culturalindia

बता दें कि कोरोना महामारी के चलते 17 मार्च से ताजमहल, आगरा क़िला सहित अन्य सभी स्मारकों को बंद कर दिया गया था. ताजमहल व आगरा क़िला पहली बार इतने लंबे समय के लिए बंद रहे.

Source: ndtv

आगरा के जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने कहा कि, 21 सितंबर से विश्व विरासत इन दोनों स्मारकों को खोलने के आदेश जारी कर दिए हैं. इस फ़ैसले से पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों में उम्मीद जगी है. इन दोनों स्मारकों के खुलने से पर्यटन उद्योग पर छाए संकट के बादल छटेंगे.