जून 2020 में केरल के मलप्पुरम में विस्फोटक पदार्थ खाकर एक गर्भवती हथिनी की मौत हो गई थी. इस बीच तमिलनाडु से ही इंसानियत को शर्मसार करने वाली इसी तरह की एक और दिल दहला देने वाली ख़बर सामने आई है.  

दरअसल, तमिलनाडु के नीलगिरी ज़िले में एक शख़्स ने हाथी के ऊपर जलता हुआ टायर फेंक दिया, जिससे झुलसकर 40 साल के एक बुज़ुर्ग हाथी की दर्दनाक मौत हो गयी.  

क्या है पूरा मामला? 

मामला नीलगिरी ज़िले के मासिनागुड़ी में स्थित एक प्राइवेट रिसोर्ट का बताया जा रहा है. इस दौरान रिसोर्ट की तरफ़ बढ़ रहे एक हाथी को भगाने के चक्कर में रिसोर्ट के स्टाफ़ ने उस पर जलता हुआ टायर फ़ेंक दिया, जो उसके कान में फंस गया था. इस जलते टायर की वजह से हाथी बुरी तरह घायल हो गया और कुछ दिन बाद इलाज के दौरान उसकी दर्दनाक मौत हो गई.  

इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल हो रहा है.

इलाज के दौरान तोड़ा दम 

रिसोर्ट के स्टाफ़ की इस हरकत के बाद हाथी को घायल हालत में देखकर वन रेंजर्स उपचार के लिए उसे 'मुदुमलाई टाइगर रिजर्व' ले गए. वन विभाग स्टाफ़ द्वारा किए किए गए तमाम प्रयासों के बावजूद हाथी को बचाया नहीं जा सका. इसके बाद हाथी को क्रेन के ज़रिए ट्रक पर लादकर अंतिम क्रिया के लिए ले जाया गया. 

मामले में पुलिस ने विडियो के आधार पर प्रसात और रेमंड डीन नाम के दो लोगों की पहचान कर उन्हें गिरफ़्तार कर लिया है. इन दो आरोपियों के अलावा रिकी रायन नाम के एक अन्य शख्स भी इस घटना में शामिल था.  

Source: twitter

इस दौरान हाथी की अंतिम विदाई का भी एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक वन रेंजर ट्रक में पड़े हाथी की सूंड को पकड़कर रो रहा है. वन रेंजर के इस इमोशनल वीडियो ने सोशल मीडिया पर हर किसी को भावुक कर दिया है.