आज के दौर में कुछ लोगों की दरियादिली की वजह से ही इंसानियत ज़िंदा है. आज की दरियादिली वाली ख़बर केरल से है. जहां दो भाई मिल कर रोज़ाना 10 लोगों को मुफ़्त खाना खिलाते हैं. नोटिस करने वाली बात ये है कि ये दोनों भाई कोई बहुत बड़े बिज़नेसमैन नहीं हैं, बल्कि दोनों कलूर के पास अशोका रोड पर एक चाय की दुकान चलाते हैं.

Tea Stall
Source: indiatimes

रिपोर्ट के मुताबिक, OA Nazar अपने भाई OA Shamsudheen के साथ मिल कर पिछले कुछ महीनों से ग़रीबों को खाना खिला कर उनका पेट भर रहे हैं. बताया जा रहा है कि लॉकडाउन के दौरान दुकान को बंद कर दिया गया था. फिर भी दोनों भईयों ने लोगों को खाना खिलाने का काम जारी रखा. दुकान सुबह 6 बजे से दोपहर 3 बजे तक खुली रहती है. 

Chai
Source: shivanilovesfood

OA Nazar और OA Shamsudheen का कहना है कि इस कार्य के लिये उन्हें एक हफ़्ते पहले ही आर्थिक मदद मिल जाती है. हांलाकि, अगर कोई आर्थिक मदद न भी दे, तो भी वो अपने दम पर लोगों को खाना खिलाएंगे. पूरे दिन का खर्च हटाकर, दोनों ग़रीबों को मुफ़्त में लंच देने में सफ़ल रहते हैं. इसके साथ ही कई अन्य लोग भी उनके इस काम में मदद देने को आगे आये हैं.

Food
Source: wur

चाय की ये दुकान 1984 से है. इस जगह पर उनके पिता पहले एक छोटी स्टेशनरी की दुकान खोले हुए थे, पर घाटे के चलते वो बंद करनी पड़ी. OA Nazar और OA Shamsudheen के पिता ज़्यादातर आमदनी लोगों की सहायता में लगा देते थे. पिता के जाने के बाद भी दोनों भाइयों ने लोगों की सहायता का सिलसिला जारी रखा. दोनों का कहना है कि एक मील की कीमत एक 40 रुपये कर दी है. इससे पहले यह 35 रुपये थी. लॉकडाउन के चलते क़ीमत बढ़ानी पड़ी. हांलाकि, फिर ये इतना महंगा नहीं है.

मदद का ये जज़्बा अगर हर किसी में हो तो देश का रूप ही कुछ और होगा.