देश के युवाओं के बीच ऑनलाइन गेम्स PUBG का क्रेज़ कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है. युवाओं को इस जानलेवा गेम की लत इस क़दर लग चुकी है कि वो छूटने का नाम ही नहीं ले रही. देशभर में कई युवा इसकी चपेट में आ चुके हैं. ऐसी ही एक घटना तेलंगाना में भी देखने को मिली है.

Source: kaggle

मामला तेलंगाना के वनपार्थी ज़िले का है. ऑनलाइन गेम PUBG खेलने की लत के चलते 19 साल के युवक को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा. बिना खाए, पिए और सोए लगातार PUBG खेलता के चलते उसे ब्रेन स्ट्रोक आया. इसके बाद उसे आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा.

Source: engadget

इलाज के दौरान डॉक्टरों ने बताया कि युवक के दिमाग में ब्रेन क्लॉट बन गए थे. न्यूट्रिशन ख़राब होने के चलते वजन भी कम हो गया था. साथ ही वो डिहाइड्रेशन का शिकार भी हो गया था. PUBG में कॉम्पिटिशन के कारण वो मानसिक तनाव से भी गुजर रहा था.

Source: theverge

इस युवक का इलाज कर रहे न्यूरोफ़िजिशयन डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि जब उसे अस्पताल लाया गया तो वो पूरी तरह होश में नहीं था और सही से जवाब भी नहीं दे पा रहा था.

हालांकि, इस युवक की किस्मत कि ब्रेन स्ट्रोक के बावजूद वो बच गया और इलाज के बाद उसे डिस्चार्ज कर दिया गया.

Source: businessinsider

दिन भर खेलता था PUBG

इस युवक की मां ने कहा कि वो रात 9 बजे से लेकर सुबह 3-4 बजे तक PUBG खेलता रहता है. दिन में कॉलेज के वक्त भी उसे जब भी मौका मिलता वो गेम खेलने लगता है. छुट्टी वाले दिन वो दिनभर गेम खेलने में ही लगा रहता है उसका किसी अन्य काम में भी मन नहीं लगता.

Source: gulfnews

न्यूरोफ़िजिशयन डॉ. विनोद कुमार का कहना है कि PUBG खेलने के चलते बच्चों का पूरा फ़ोकस सिर्फ़ गेम पर रहता है. जिसके चलते वो खाना-पीना तक छोड़ देते हैं. यहां तक की वो अपनी नींद भी ख़राब कर रहे हैं. 6-7 घंटे लगातार गेम खेलने के चलते पूरा प्रेशर दिमाग पर पड़ रहा है जिसके चलते ब्रेन स्ट्रोक के ज़्यादा मामले सामने आ रहे हैं.