पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए 40 भारतीय जवानों के परिवारों के लिए मंगलवार की सुबह एक राहत की ख़बर लेकर आई. भारतीय वायुसेना ने सुबह करीब 3:30 बजे पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक कर आतंकी ठिकानों का ख़ात्मा किया. इस हमले में करीब 300 से ज़्यादा आतंकियों के मारे जाने की ख़बर है.

Source: haribhoomi

विदेश मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर बताया कि इस कार्रवाई में आतंकी संगठन 'जैश-ए-मोहम्मद' के प्रमुख मसूद अज़हर का साला यूसुफ़ अज़हर भी मारा गया है. यूसुफ़ अज़हर उर्फ़ उस्ताद गौरी उर्फ़ मोहम्मद सलीम वही आतंकी है, जो 24 दिसंबर 1999 को हाईजैक हुए इंडियन एयरलाइन्स के विमान IC-814 के मुख्य हाईजैकर्स में से एक था. बताया जाता है कि यूसुफ़ ही मसूद अज़हर की आतंकी फ़ैक्टरी का सारा कामकाज संभालता था.

Source: aajtak

साल 2000 में सीबीआई के अनुरोध पर इंटरपोल ने विमान अपहरणकर्ताओं के ख़िलाफ़ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था. वहीं साल 2002 में भारत सरकार ने 20 भगोड़ों की एक सूची पाकिस्तान सरकार को सौंपी थी, जिसमें यूसुफ़ अज़हर का नाम भी शामिल था.

Source: zeenews

जानकारी दे दें कि मसूद अज़हर वही आतंकी है जिसे साल 1999 में हुए 'कंधार हाईजैक' के बदले जेल से रिहा किया गया था. मसूद अज़हर 'जैश-ए-मोहम्मद' नाम के अपने आतंकी संगठन के ज़रिये पिछले कई सालों से भारत के ख़िलाफ़ आतंकी गतिविधियों में शामिल रहा है.

Source: bbc

विदेश सचिव विजय गोखले ने इस पूरे ऑपरेशन की पुष्टि करते हुए जानकारी दी कि 20 साल से जैश पाकिस्तान में आतंकी साजिश रच रहा था बावजूद इसके पाकिस्तान ने इन आतंकी संगठनों पर आजतक कोई कार्रवाई नहीं की.

Source: khabar

AIF ने कैसे की कार्रवाई?

Source: thehindu

दरअसल, भारत की सुरक्षा एजेंसियों के पास पाकिस्तान में उन 13 ठिकानों की जानकारी थी जहां से 'जैश-ए-मोहम्मद' आतंकी संगठन चला रहा था. इस ऑपरेशन में भारतीय वायुसेना ने 12 'मिराज-2000' विमानों का प्रयोग किया. सभी मिराज जेट करीब 500 /1000 lb लेजर-गाइडेड बम से लैस थे. मिराज 2000 जेट्स में इज़रायली लाइटिंग टारगेटिंग पॉड्स थे. इस दौरान हवा में निगरानी रखने के लिए भारतीय वायुसेना का हेरोन सर्व‍िलांस भी टीम के साथ था. इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए कई ड्रोन कैमरे का भी इस्तेमाल किया गया था.

मिराज-2000 ने ग्वालियर एयरबेस से उड़ान भरी थी और पीओके में आतंकवादियों के ठिकाने पर बम बरसाए. AIF के एक जेट ने भटिंडा से उड़ान भरी थी जबकि वायुसेना के मिड एयर रिफ्यूलिंग टैंकर ने आगरा से उड़ान भरी.

Source: thelallantop

भारतीय वायुसेना द्वारा इस कार्रवाई को अंजाम देने के बाद आज सुबह करीब 6.30 बजे भारतीय सेना द्वारा गुजरात के कच्छ में पाकिस्तान के एक ड्रोन को मार गिराने की भी ख़बर भी आई थी. इसके बाद भारतीय वायुसेना ने एयर डिफ़ेंस सिस्टम को हाई अलर्ट पर रखा है.

Source: timesnownews

पाकिस्तान ने भी भारत की ओर से हुई इस कर्रवाई को माना है. पाकिस्तानी मीडिया और सेना के प्रवक्ता ने कहा है कि भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने एलओसी क्रॉस की है. इस हमले के बाद पाकिस्तानी संसद में भी इमरान खान 'शेम-शेम' के नारे लगे.

Source: thehindu

बता दें कि पीएम मोदी ख़ुद इस ऑपरेशन की निगरानी कर रहे थे. ऑपरेशन के दौरान पीएम मोदी भी एक्शन रुम में मौजूद थे.