मंगलवार को स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में साल 2019 फ़िज़िक्स के लिए नोबल पुरस्कार का ऐलान कर दिया गया है. इस साल फ़िज़िक्स के लिए तीन वैज्ञानिकों को नोबेल पुरस्कार दिया गया है.

कनाडाई मूल के अमेरिकी वैज्ञानिक जेम्स पीबल्स को कॉस्मोलॉजी में सैद्धांतिक खोज के लिए जबकि स्विट्जरलैंड के वैज्ञानिकों माइकल मेयर और डिडिएर क्वेलोज को संयुक्त रूप से एक्सोप्लैनेट की खोज के लिए नोबेल पुरस्कार दिया गया है.

नोबेल की घोषणा होने के बाद जेम्स पीबल्स ने साइंस के छात्रों को नसीहत देते हुए कहा कि 'युवा पीढ़ी के लिए मेरी यही सलाह है कि अगर आप विज्ञान से प्रेम करते हैं तो ही इसमें आगे कुछ अच्छा कर सकते हैं.

इससे पहले सोमवार को अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों विलियम जी. काएलिन, ग्रेग एल. सेमानाज और ब्रिटेन के पीटर. जे. रैटक्लिफ़ को चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार दिया गया.

14 अक्टूबर तक कुल छह क्षेत्रों में नोबेल पुरस्कारों का ऐलान किया जाएगा. इस दौरान स्वीडिश अकेडमी साल 2018 और 2019 के लिए साहित्य नोबेल पुरस्कारों की घोषणा करेगी. सभी नोबेल पुरस्कार विजेताओं को 10 दिसंबर को स्टॉकहोम में आयोजित कार्यक्रम में मेडल प्रदान किए जाएंगे.

बता दें कि 'नोबेल पुरस्कार' हर साल स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ़्रेड नोबेल की स्मृति में दिया जाता है. इसकी शुरुआत 1901 में हुई थी. नोबेल चिकित्सा, भौतिकी, रसायन, साहित्य, शांति और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में दिया जाता है.