'समय सबसे बलवान होता है' 

ये पुरानी कहावत सौ फ़ीसदी सच है. वाकई में समय कब, किसे, क्या बना दे कुछ कहा नहीं जा सकता है. हाल ही में आपने 'बाबा का ढाबा' चलाने वाले बुज़ुर्ग बाबा को फर्श से अर्श तक पहुंचते देखा होगा. कैसे एक वीडियो ने चंद मिनटों में ही उनके ग़म भरे आंसुओं को ख़ुशियों वाले आंसुओं में बदल दिया था.

आज हम आपको दुनिया के 5 ऐसे ही ख़ुश क़िस्मत लोगों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी क़िस्मत ने इनका ऐसा साथ दिया कि ये रातों-रात करोड़पति बन गए.  

1- उल्कापिंड से बना करोड़पति  

NDTV रिपोर्ट के मुताबिक़, सुमात्रा का रहने वाला ताबूत निर्माता 33 वर्षीय Josua Hutagalung अपने घर की छत गिरे 2.1 किग्रा के उल्कापिंड (Meteorite) को '9.8 करोड़ रुपये' में बेचकर रातों-रात करोड़पति बन गया था. ये उल्का पिंड अरबों साल पुराना था और इसकी मार्किट वैल्यू 63,000 प्रति ग्राम है.

Source: humlog

2- 'तंज़ानाइट रत्न' बेचकर बना करोड़पति  

इसी साल जून में Saniniu Laizer नाम के एक खनिक ने 9.27 किलो व 5 किलो के दो रत्न खोजे थे. ये तंज़ानिया के इतिहास में पाए गए अब तक के सबसे बड़े 'तंज़ानाइट रत्न' में से दो हैं, इसलिए सरकार ने उन्हें 7.74 बिलियन तंज़ानिया शिलिंग (24.7 करोड़ रुपये) का इनाम दिया, जिससे वो करोड़पति बन गए.

Source: exavibes

3- 24.20 करोड़ की लॉटरी जीती 

दुबई में भारतीय मूल के हरिकृष्णन वी नायर 12 मिलियन दिरहम (24.20 करोड़ रुपये) की लॉटरी जीतकर रातों-रात करोड़पति बन गए थे. The News Minute की रिपोर्ट के मुताबिक़, हरिकृष्णन ने लॉटरी के 3 टिकट खरीदे और तीसरे टिकट ने उन्हें करोड़पति बना दिया.  

Source: business

4- बर्थडे गिफ़्ट में मिले 28,744 करोड़ रुपये

Economic Time के मुताबिक़, 24 वर्षीय Eric Tse को बर्थडे गिफ़्ट के तौर पर अपने माता-पिता से 3.88 बिलियन डॉलर (28,744 करोड़ रुपये) मिले थे. इस दौरान ऐरिक को परिवार की कंपनी के शेयर का 1/5 हिस्सा मिलने से वो रातों-रात अरबपति बन गए थे.

Source: economictimes

5- केरल के पोरुन्नान ने 12 करोड़ की लॉटरी जीती

इसी साल फ़रवरी में केरल के पोरुन्नान राजन नाम के शख़्स ने 12 करोड़ की लॉटरी जीती थी. पेशे से रबड़ टैपर पोरुन्नान को ST 269609 टिकिट के साथ पहला ईनाम मिला. टैक्स काटने के बाद उन्हें क़रीब 7.2 रुपये मिले थे.  

Source: newindianexpress

6. दो मज़दूरों को मिला 2.55 करोड़ का डायमंड

The Times of India की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, साल 2018 में मध्य प्रदेश की 'पन्ना डायमंड खान' में मोतीलाल और रघुवीर प्रजापति नाम के दो मज़दूरों ने 42.9 कैरेट का डायमंड खोज निकाला था. इस डायमंड को 2.55 करोड़ रुपये में बेचकर ये दोनों रातों-रात करोड़पति बन गए थे.

Source: laughingcolours

क़िस्मत हो तो इनके जैसी.