Source: T7 News/Representational Image

दिल्ली में एक चौंकाने वाली चोरी हुई. जिस पाइप को राष्ट्रपति भवन में पानी की सप्लाई के लिए लगाया जाना था, उसे चोर उठा ले गए. 

अरुण जैन की कंपनी राष्ट्रपति भवन में पाइप लगाने का कांट्रेक्ट मिला था. चाणक्यपुरी पुलिस स्टेशन में लिखाई एफ. आई. आर में उन्होंने बताया कि 20-22 पाइप की चोरी हुई है. ये सभी पाइप राष्ट्रपति भवन का गेट संख्या 23-24 के सामने रखा हुआ था. जोर बाग से लेकर राष्ट्रपति भवन तक इसे लगाया जाना था. 

जांच के दौरान पुलिस ने CCTV के फुटेज को देखा. उससे पता चला कि चोर घटनास्थल पर कार से पहुंचा, पाइप को कंटेनर में रखा और चलते बना. मीडिया सुत्रों के कहना है कि इसके लिए स्विफ़्ट डिज़ायर कार का इस्तेमाल किया गया. पुलिस ने इस मामले में आज़मगढ़ के अजय(31) सबसे पहली गिरफ़्तार किया. 

पूछताछ में अजय ने अपने अन्य तीन साथियों के बारे में बताया, जिसे बाद में गिरफ़्तार किया गया. उन्होंने बताया की चोरी की पाइप मेरठ में बेच दी गई. सभी आरोपियों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया. अजय को पुलिस रिमांड में रखा गया और बाकी आरोपियों को जेल में भेजा गया.