नया स्कूल हो, नया कॉलेज हो या नई नौकरी हो, नर्वसनेस का लेवल लगभग एक जैसा ही होता है. जो एक असमानता दिखती है वो ये कि स्कूल जाते बच्चों के माता-पिता काफ़ी चिंतित रहते हैं.


कुछ ऐसा ही हाल था April Crites का. दूसरी कक्षा में जाने वाला था April का बेटा, Conner. Conner को Autism है और ये April को उसकी बहुत ज़्यादा चिंता हो रही थी.

Today को April ने बताया, 'Conner का Comfort Zone है उसका बेडरूम. मुझे पता था कि उसका पहला दिन काफ़ी अजीब होगा और मुझे इसकी की चिंता हो रही थी.'


April को अपने Autistic बेटे के लिए चिंता हो रही थी पर Conner के साथ जो हुआ वो शायद उन्होंने कभी नहीं सोचा था.

Conner को कोने में अकेले रोता देखकर अपने क्लास में जा रहे Christian Moore उसके पास गया, उसका हाथ पकड़ा और उसे स्कूल के अंदर ले गया.


April का कहना है कि Conner का Aid कुछ देर के लिए उससे दूर गया और Conner अपनी भावनाओं पर कंट्रोल नहीं रख पाया.

Christian Moore की मम्मी ने ये प्यारी सी तस्वीर कैमरे में क़ैद कर ली और ये वायरल हो गई. इसे अब तक 28 हज़ार से ज़्यादा शेयर और 45 हज़ार से ज़्यादा Reactions मिल चुके हैं.

सोशल मीडिया सैनिकों ने Christian की पीठ थपथपाई-

Christian ने इतनी छोटी सी उम्र में ही हमें बहुत बड़ी सीख दी है. आज के दौर में दयालुता की काफ़ी ज़रूरत है.