मोदी सरकार के तीन नए कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ किसान लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. 14 जनवरी को इस प्रदर्शन का 50वां दिन था. प्रदर्शन कर रहे किसानों ने लोहड़ी के दिन प्रदर्शन वाली जगहों में नए कृषि क़ानूनों की प्रतियां जलाईं. देश के कई हिस्से से लोग अलग-अलग तरीक़े से किसानों को अपना समर्थन भी दे रहे हैं. कई लोग किसानों के साथ इस प्रदर्शन का हिस्सा भी बन रहे हैं.

Source: timesnownews

ऐसे में लोगों को जागरूक करने के लिए केरल के स्टूडेंट जिबिन जॉर्ज (Jibin George) ने एक अनोखा तरीक़ा अपनाया है. 22 साल के जिबिन अपने घर तिरुवनंतपुरम से कश्मीर तक की यात्रा के लिए अपनी साइकिल से निकल पड़े. अपनी इस यात्रा में जिबिन ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को कृषि क़ानूनों और चल रहे आंदोलन के बारे में बताना चाहते हैं. जिबिन होटल मैनेजमेंट के दूसरे साल के स्टूडेंट हैं.

Source: twitter/cyclingmonksIN

Indiatimes को जिबिन ने बताया, "मैंने 7 जनवरी को रोड ट्रिप शुरू की और हिगवाय से महाराष्ट्र तक जाऊंगा. वहां से अंदर के रास्तों से गुजरात और राजस्थान होते हुए दिल्ली पहुंचने का सोचा है. वहां किसानों से मिलकर मैं कश्मीर के लिए निकल जाऊंगा. कश्मीर तक पहुंचने में मुझे 2 महीने से ज़्यादा समय लग सकता है."

Source: thenewsminute

जिबिन ने बताया कि अब तक लोग उनसे सकारात्मक तरीक़े से ही मिले हैं.