इदलिब, तुर्की की सीमा से सटा सीरिया का वो शहर जो पिछले कुछ हफ़्तों से लगातार बमबारी का शिकार रहा है. द गार्डियन की रिपोर्ट के मुताबिक़ सीरिया की वायु सेना और उनके रूसी सहयोगियों द्वारा किए गए हवाई हमलों से इदलिब में अब तक 21 नागरिक मारे गए हैं. 

इस बमबारी के बीच एक शख़्स ऐसा भी है जो डर के इस माहौल में अपनी 4 साल की बेटी के इरादों को मज़बूत बनाने का काम कर रहा है. 

Source: twitter

दरअसल, इस पिता ने अपनी 4 साल की बेटी को बम धमाकों की आवाज़ के डर से बचाने के लिए एक नायाब तरीका खोज निकाला है. अब्दुल्लाह ने बेटी के डर को कम करने के लिए 'Laughing Game' निजात किया है. इस दौरान जब-जब बम धमाकों की आवाज़ होती है 4 साल सेल्वा डरने के बजाय ज़ोर-ज़ोर से हंसने लगती है. 

Source: twitter

हालांकि, तमाम मुश्किलों के बावजूद बाप-बेटी का इस तरह मुस्कराना सोशल मीडिया पर लोगों को बेहद पसंद आ रहा है, लेकिन इस हंसी के पीछे एक कला सच ये भी है कि ज़िंदगी जितनी आसान लगती है उतनी है नहीं. ख़ासकर आज के दौर में सीरिया जैसे देशों में ज़िंदगी गुजरना किसी मौत से कम नहीं है. 

ब्रिटिश कोलंबिया के एक पत्रकार अली मुस्तफ़ा ने बाप-बेटी के इस वीडियो को अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया. जो अब सोशल मीडिया पर एक अच्छे मैसेज के साथ आग की तरह फ़ैल चुका है. 

सोशल मीडिया पर लोग बेटी के मुस्कराते चेहरे के लिए इस पिता की कोशिश को सलाम कर रहे हैं-