अमेरिका की साप्ताहिक पत्रिका, TIME ने लोक सभा चुनाव 2019 से पहले एक लेख छापा था. पत्रिका के कवर पर PM मोदी की फ़ोटो छापी गई थी और उन्हें 'Divider In Chief' कहा गया था.


इस लेख को लिखने वाले लेखक की भी काफ़ी आलोचना की गई थी.

लोक सभा चुनाव ख़त्म हो चुके हैं और नरेन्द्र मोदी का दोबारा देश के प्रधानमंत्री बन रहे हैं. बीते मंगलवार को TIME ने एक और लेख छापा.

Source: TIME

इस लेख का शीर्षक है, 'मोदी ने भारत को इस तरह जोड़ा है, जो दशकों से कोई प्रधानमंत्री नहीं कर पाया.'

ये लेख मैगज़ीन की कवर स्टोरी नहीं है. लेखक मनोज लाडवा ने लिखा,


'नरेंद्र मोदी भारत के सबसे पिछड़े सामाजिक समुदाय में पैदा हुए. उच्च पद पर पहुंचकर मोदी ने न सिर्फ़ वर्किंग क्लास की आकांक्षाओं का प्रतीनिधित्व किया बल्कि ग़रीब देशवासी भी उनसे जुड़ाb महसूस करते हैं. उन्होंने वो किया जो आज़ादी के 72 साल बाद नेहरू-गांधी के वंश में से कोई नहीं कर सका.'

Source: TIME

मनोज ने आगे लिखा,


'मोदी ने भारत देश की साफ़-सफ़ाई पर काम करने का प्रण लिया था और उन्होंने बहुत हद तक इस प्रण को पूरा भी किया. कभी जहां सिर्फ़ 40% घरों में शौचालय थे, वहीं आज 95% घरों में शौचालय हैं. जब वे प्रधानमंत्री बने, तब सिर्फ़ 40% गांवों में बिजली थी अब लगभग हर भारतीय गांव में बिजली है.'

Source: TIME

मनोज ने 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री कैंपेन की Research Analysis And Messaging Division संभाली थी.


हालांकि मनोज ने ये कहा कि मोदी के सारे काम 'Work-In-Progress' की श्रेणी में हैं पर ये भी लिखा कि नरेंद्र मोदी के कार्यों को विश्व बैंक, आईएमएफ़ और संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी सराहा है.

Source: TIME

इस लेख पर ट्विटर सेना की प्रतिक्रिया:

ख़ैर इस सब पर हम बस इतना कह सकते हैं, सबका TIME TIME आता है!