अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के लिए अहमदाबाद में नई दीवारों का निर्माण किया गया था. ये दीवारें उनके काफ़िले के रास्ते में पड़ने वाली स्लम्स यानी झुग्गियों को छिपाने के लिए बनाई गई हैं. अब ख़बर आई है कि उनके लिए 300 साल में पहली बार ताजमहल में बनी कब्रों को साफ़ किया गया है.

Source: dw

दरअसल, सोमवार को डोनाल्ड ट्रंप अपनी पत्नी मिलानिया ट्रंप के साथ ताजमहल का दीदार करने पहुंचेंगे. इसके लिए भारतीय पुरातत्व विभाग ने 300 सालों में पहली बार ताजमहल में बनीं Replica(प्रतिकृति) क्रबों को साफ़ किया है. इन पर उन्होंने मुल्तानी मिट्टी से बने ख़ास पैक की नई परत चढ़ाई है और इसे डिस्टिल्ड वाटर से धोया गया है.

Source: timesnownews

प्यार की निशानी ताजमहल में शाहजहां और उनकी पत्नी मुमताज महल की क्रबें हैं. इनके ऊपर इन प्रतिकृतियों को बनाया गया है. इनके ऊपर लगे झूमर को भी Archaeological Survey Of India (ASI) ने हल्दी के पानी से धोया है. इसके अलावा ताजमहल की दीवारों पर लगे सभी दाग-धब्बों को ASI के लोगों ने साफ़ किया है.

Taj Mahal are being cleaned for first time in 300 years
Source: dw

ASI के एक अधिकारी के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति को ताज विज़िट में कोई मुश्किल न आए, इसलिए रेलिंग, फ़ेंसिंग हटवाई गई हैं. मुख्य गुंबद के साथ पूरे स्मारक पर सफ़ाई के साथ नहर, फ़व्वारों और उद्यान में भी काफ़ी काम किया गया है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शाहजहां की क्रब़ को आम लोगों के लिए साल में 3 दिनों (शाहजहां कि डेथ एनिवसरी) के लिए खोला जाता है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया यहां क़रीब 2 घंटे रहेंगे. जब तक वो ताजमहल के अंदर रहेंगे, तब तक अन्य पर्यटकों के लिए इसे बंद रखा जाएगा.


News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.