ऑस्ट्रेलिया से एक ऐसी ख़बर आई है, जिसे सुनकर आप हवाई यात्रा करने से पहले कई बार सोचेंगे. यहां एक पायलट प्लेन उड़ाते-उड़ाते सो गया. वो बेहोशी की हालत में एडिलेड हवाई अड्डे के उड़ान क्षेत्र में करीब 40 मिनट तक प्लेन उड़ता रहा. गनीमत रही की कोई हादसा नहीं हुआ.

ऑस्ट्रेलिया ट्रांसपोर्ट सेफ़्टी ब्यूरो (एटीएसबी) ने एक रिपोर्ट में इस घटना का खुलासा किया है. ये घटना इसी साल मार्च में हुई थी. रिपोर्ट के अनुसार, एक ट्रेनी पायलट अपनी उड़ान भरने से पहली रात को ठीक से सो नहीं पाया था.

ट्रेनिंग पर आने से पहले उसने ठीक से नाश्ता भी नहीं किया था. वो सिर्फ़ एक चॉकलेट और थोड़ा पानी पीकर एडिलेड के फ़्लाइट ट्रेनिंग स्कूल पहुंच गया. यहां उसने 5500 फ़ीट की ऊंचाई पर उड़ान भरी.

Source: ABC

उड़ान के दौरान उसके सिर में दर्द होने लगा और उसे नींद आने लगी. इसके बाद उसने प्लेन को ऑटोपायलट मोड पर डाल दिया और वो बेहोश हो गया. उसे बेहोशी की हालत में उड़ता देख उसके पास से गुज़र रहे एक प्लेन के पायलट ने देख लिया.

इसकी जानकारी उसने एटीसी को दी. अधिकारियों ने उससे संपर्क साधने की कोशिश की लेकिन कुछ हासिल न हुआ. उसके बाद किसी तरह उसे एक अन्य प्लेन की निगरानी में बहुत ही मुश्किल से लैंड करवाया गया.

इस घटना के बाद एटीएसबी ने ट्रेनी पायलटों के लिए कुछ सख़्त नियम बनाने की बात कही है. इनमें उन्हें पिछले 24 घंटे की नींद और भोजन के बारे में बताना होगा, ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचा जा सके.