तमिलनाडु में एक ट्रांसजेंडर महिला पंडित की निर्मम हत्या कर दी गई.


New Indian Express के अनुसार, बीते शुक्रवार को 38 वर्षीय राजाथी की 2 लोगों ने हत्या कर दी और भाग गए.  

Thoothukudi के SS Manikapuram में मरीयम्मन मंदिर की पुजारी थी राजाथी. Thoothukudi के डीएसपी आर.प्रकाश ने मामले की जांच शुरू कर दी थी. 

इस घटना के 4-5 दिन बाद भी किसी को हिरासत में नहीं लिया गया है. 

Source: The News Minute

 The News Minute को जांच कर रहे एक अफ़सर ने बताया,

'हमने अपराधी को कल पकड़ ही लिया था, पर वो भाग निकला.'

हत्या का मुख्य आरोपी, मारुथू मंदिर में ही सेक्रेटरी के पद पर था. रिपोर्ट्स के अनुसार मारुथू और राजाथी के बीच संबंध थे लेकिन बाद में राजाथी ने रिश्ता तोड़ लिया था. ट्रांसजेंडर समुदाय के लोगों ने बताया कि राजाथी को मारुथू पिछले साल से ही परेशान कर रहा था. 

Trans Rights Now Collective की ग्रेस बानु ने बताया कि शुक्रवार सुबह, मारुथू एक अन्य व्यक्ति के साथ मंदिर में घुसा और राजाथी के टुकड़े-टुकड़े कर दिए और उसका सिर मंदिर के बाहर रख दिया. 

जांच कर रहे अफ़सर ने बताया,

जब राजाथी और मारुथू के बीच संबंध थे, तब राजाथी ने उसकी आर्थिक तौर पर काफ़ी मदद की थी. उसने मारुथू को दुकान लगाने में मदद की और Water Lorry भी ख़रीद दी. जब राजाथी को मारुथू के विवाह करने की बात पता चली, तब वो उससे दूर हो गई. यही बात मारुथू को पसंद नहीं आई. अभी हत्या का यही कारण समझ आ रहा है.
Source: Financial Express

Thoothukudi पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए 5 टीम बनाई हैं. ग्रेस बानु का आरोप है कि अगर किसी 'आम पुरुष' या 'आम नारी' की हत्या हुई होती, तो अब तक आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया जाता.