करीब चार घंटे की बहस के बाद आख़िरकार राज्यसभा में 'तीन तलाक विधेयक' पास हो गया. तीन तलाक विधेयक लोकसभा में पहले ही पास हो चुका था. कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस विधेयक को सदन में पेश किया था, जिस पर सदन ने मोहर लगा दी है.

Source: amarujala

बिल के पक्ष में 99 जबकि विरोध में कुल 84 वोट पड़े. वोटिंग के दौरान विपक्ष के कई सांसद गायब रहे. इस बिल के पास हो जाने से ट्रिपल तलाक़ की पीड़ित मुस्लिम महिलाओं को सुरक्षा मिलेगी. इसके साथ ही तीन तलाक के आरोपी को तीन साल की जेल होगी.

Source: jagranjosh

अब इस बिल को राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा. मंज़ूरी मिलने के बाद ये बिल कानून का रूप ले लेगा.

इसके साथ ही मोदी सरकार के लिए आज का दिन ऐतिहासिक कामयाबी वाला रहा. इस दिन को आज से देश में सामाजिक सुधार की दिशा में बड़ा कदम माना गया जायेगा.

Source: ndtv

विधेयक पर वोटिंग

आज राज्यसभा में बिल को लेकर लंबी बहस चली. बहस के बाद बिल को 'सेलेक्ट कमेटी' के पास भेजे जाने की मांग पर वोटिंग हुई. सरकार को इसमें जीत मिली. इसके बाद साफ़ हो गया कि सरकार तीन तलाक बिल आज पास करा लेगी. सत्तारूढ़ एनडीए के सहयोगी दल जेडीयू और एआईएडीएमके ने तीन तलाक बिल का विरोध किया और दोनों ही पार्टी ने सदन से वॉकआउट किया. इसके अलावा टीआरएस, वाईएसआर कांग्रेस और बीएसपी ने भी सदन से वॉक आउट किया. इसके अलावा विपक्ष के कई सांसद सदन में अनुपस्थित रहे.