दूरदर्शन के साथ सब कुछ ठीक चल रहा था, एंकर आराम-आराम से ख़बरे पढ़ रहे थे, दोपहर में आराम-आराम से धारावाहिक दिखाए जा रहे थे. सुबह की शुरुआत करने की भी कोई जल्दबाज़ी नहीं थी, रात में सो भी ज,ल्दी जाते थे. फिर किसी को चुल मची कि सबकुछ बोरिंग सा हो रहा है चलो थोड़ा थ्रिल लाते हैं और प्रसार भारती ने ये किया...

इस ट्वीट का लब्बोलुआब ये है कि प्रसार भारती ने दूरदर्शन पर एक प्रतियोगिता का आयोजन किया, जिसमें कोई भी भाग ले सकता था. प्रतियोगिता का मकसद था प्रतिभागियों से दूरदर्शन के लिए नया लोगो डिज़ाइन करवाना. इसके तहत कुल 10,000 लोगों ने लोगो बना कर प्रसार भारती को भेजा, जिसमें से Final पांच ट्वीट में जोड़े हैं.

प्रसार भारती ने सोचा हमने बहुत अच्छा काम किया, चलकर दुनिया को बताते हैं, साबाशी मिलेगी. उल्टा लोगो ने ट्रोल करना शुरु कर दिया.

हम तुम्हारा ग़म समझ सकते हैं प्रसार भारती, हम भी जब ग़ज़बपोस्ट से ScoopWhoop Hindi बने थे, तो लोगों ने ख़ूब सुनाया था.