लेट एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने सुसाइड की थी या उनकी हत्या हुई थी. इस सवाल का जवाब पाने के लिए उनके परिवार से लेकर आम आदमी तक सभी इंतज़ार कर रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ उनकी मौत को चुनावी मुद्दा बनाकर कुछ राजनीतिक पार्टियां इस पर राजनीति कर रही हैं.

Bihar BJP culture wing poster seeking justice for Sushant Singh Rajput
Source: twitter

ताज़ा मामला बिहार का है, जहां कुछ दिनों बाद विधानसभा चुनाव होने हैं. यहां बिहार बीजेपी के कला एंव संस्कृति विभाग ने एक पोस्टर शेयर किया है. इसमें हैशटैग जस्टिस फ़ॉर सुशांत के साथ एक स्लोगन लिखा है, ‘ना भूले हैं! ना भूलने देंगे’.

Bihar BJP culture wing poster seeking justice for Sushant Singh Rajput
Source: msn

इस पोस्टर को लेकर विपक्ष से लेकर आम आदमी तक बीजेपी से सवाल कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर भी लोग बीजेपी को सुशांत सिंह राजपूत की मौत को चुनावी मुद्दा बनाने के लिए घेरते हुए नज़र आए. आप भी देखिए:

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बिहार बीजेपी के कला एवं संस्कृति विभाग ने ऐसे 30 हज़ार स्टिकर्स के साथ ही सुशांत के चेहरे की तस्वीर वाले हज़ारों मास्क भी राज्य में बांटे हैं. इस मामले के तूल पकड़ने के बाद बीजेपी ने कहा कि वो शुरुआत से ही सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलाने के लिए लड़ रही है. उन्होंने ये स्टिकर्स जून में छपवाए थे. इसका विधानसभा चुनाव से कोई लेना-देना नहीं है.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.