बिहार के वैशाली ज़िले में एक 48 साल की अधेड़ महिला और उसकी 19 साल की नवविवाहित बेटी को इसलिए सिर मुंडवा कर गांव में घुमाया गया क्योंकि उसने स्थानिय वार्ड काउंसलर को अपना बलात्कार करने से रोका.

पुलिस का कहना हे कि वार्ड काउंसलर मुहम्मद ख़ुर्सिद और उसके गुंडे ने दोनों महिलाओं को प्रताड़ित किया, उनका सिर मुंडवा कर गांव में घुमाया. वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद गुरुवार को वार्ड काउंसलर, नाइ और तीन अन्य को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया.

Source: Jagran

भगवानपुर पुलिस स्टेशन के एसएचओ संजय कुमार ने बताया कि मामले की जांच हो रही है. उन्होंने कहा, 'आधा दर्जन लोग पीड़ित के घर में घुस कर उसकी बेटी के साथ बलात्कार करने की कोशिश करने लगे, जब मां ने बेटी को बचाने की कोशिश की तो दोनों को पीटा.'

उनमें से एक आरोपी ने महिलाओं को डंडे से पीटा और घर से बाहर निकाल कर 'पंचायत' बैठाई. ख़ुर्सिद ने नाइ बुलवा कर उनका सिर मुंडवाया और गांव में घुमाया.

शाम के 6:30 बजे आधा दर्जन पुरुष मेरे घर में जबर्दस्ती घुस आए मेरा बलात्कार करने की कोशिश की. जब मेरी मां मुझे बचाने आई तब वो लोग हमे मारने लगे.

- पीड़ित

एक गवाह का कहना है कि ख़ुर्शिद ने दोनों महिलाओं के ऊपर मांस बेचने वाला रैकट चलाने का आरोप लगाया था. पुलिस के अनुसार, सात लोगों के ऊपर IPC के सेक्शन 376 और 511 के तहत मुक़दमा दर्ज कर लिया गया है.