11 सितंबर 2001 को अमेरिका में दुनिया का सबसे दिल दहला देने वाला आतंकी हमला हुआ था. इस हमले में 70 देशों के क़रीब 3000 लोग मारे गए थे. इस हमले को आतंकी संगठन अलकायदा ने करवाया था, जिसमें 19 आतंकी शामिल थे. इन्होंने चार विमान को हाइजैक किया था. इनमें से 2 विमान अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर से टकराए थे. तीसरा अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटगान के पास गिरा था और चौथा एक खेत में क्रैश हुआ था.

9/11 attack
Source: dnaindia

इस हमले के बाद अमेरिका ने अपनी सिक्योरिटी और बढ़ा दी थी और उसने आतंकियों का सफ़ाया करने का प्रण लिया था. 2 मई 2011 में अमेरिका ने एक सीक्रेट मिशन में पाकिस्तान के एबटाबाद में छिपकर रह रहे लादेन को मार कर अपना बदला पूरा भी किया था.

9/11 हमले से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य भी हैं जिनके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. चलिए एक नज़र इन पर भी डाल लेते हैं.

1. 99 दिनों तक जलती रही थी आग 

9/11 attack
Source: britannica

वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में ग्राउंड ज़ीरो पर लगी आग को 19 दिसंबर 2001 को पूरी तरह से बुझाया जा सका था. तब तक इससे आग की लपटें निकल रही थीं. 

2. वर्ल्ड ट्रेड सेंटर को पहले भी बनाया गया था निशाना 

9/11 attack
Source: dnaindia

वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर 26 फरवरी 1993 में भी एक आतंकी हमला हुआ था. तब इसकी पार्किंग में खड़ी एक कार बम रखा गया था. इस विस्फ़ोट में 6 लोग मारे गए थे और 1000 से अधिक लोग घायल हुए थे. इसे सुन्नी चरमपंथी रामज़ी यूसेफ ने प्लांट किया था.

3. CIA ने 1998 में दी थी प्लेन हाइजैक होने की चेतावनी 

9/11 attack
Source: amarujala

अमेरिकी ख़ुफिया एजेंसी CIA ने 1998 में तत्कालीन राष्ट्रपति बिल क्लिंटन को थी प्लेन हाइजैक होने की चेतावनी दी थी. उन्होंने एक रिपोर्ट में बताया था कि ओसामा बिन लादेन प्लेन हाइजैक करने का प्लान बना रहा है. ताकी वो अपने कुछ साथियों को छुड़ाने का दबाव बना सके.

4. वर्ल्ड ट्रेड सेंटर का स्टील चीन और भारत को बेचा गया था 

9/11 attack
Source: toledoblade

इस हमले के बाद वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के ग्राउंड ज़ीरो पर क़रीब 1,85,101 टन स्टील जमा हो गया था. जिसमें से कुछ का इस्तेमाल इसकी याद में बने एक स्मारक और कुछ को भारत और चीन को बेच दिया गया था.

5. विमान में मौजूद यात्रियों ने हाइजैकिंग के बारे में जानकारी दी थी 

9/11 attack
Source: dnaindia

जो चार विमान हाइजैक किए गए थे उनमें से कई पैसेंजर्स ने अपने मोबाइल से परिजनों को कॉल कर इस अपहरण के बारे में बताया था. उसके बाद ही अधिकारियों को पता चला था कि आख़िर वो क्यों इन विमानों को ट्रैक नहीं कर पा रहे हैं.

6. उस दिन न्यूयॉर्क में तीन इमारतें गिरी थीं 

9/11 attack
Source: firstpost

वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के ट्विन टॉवर्स के साथ ही एक और बिल्डिंग इस हमले में गिरी थी. इसका नाम था बिल्डिंग 7 एक 47 मंजिला इमारत जो इनके साथ ही खड़ी थी.

7. 9/11 हमले से पहले अमेरिका ने ओसामा बिन लादेन को मारने की कई बार कोशिश की थी 

9/11 attack
Source: dawn

CIA और अमेरिका दूसरी ख़ुफिया एजेंसियों ने 1998 में कई बार ओसामा बिन लादेन को मारने की कोशिश की थी. कई प्लान भी बनाए गए मगर इनमें से अधिकतर ठंडे बस्ते में डाल दिए गए. तत्कालीन राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार Sandy Berger इन्हें लेकर आश्वस्त नहीं थे.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.