त्रिवनंतपुरम में एक चोर की कहानी लोगों को घर-घर में सुनाई जा रही है. चोर का नाम है Jose, जिसे लोग Motta Jose नाम से भी जानते हैं. बुधवार को Motta Josa को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया. उसे लोगों ने पकड़ कर पेड़ से बांध रखा था.

unusual thief
Source: kerala kaumudi

Motta Jose क्यों चर्चित है, ये जानने के लिए आपको उसकी 25 जुलाई को की गई चोरी के बारे में जनना चाहिए. वो एक घर में घुसा और 76 सोने के सिक्के और 8 हज़ार रुपये चुराए. घर से बाहर निकलने से पहले उसने अपनी सिग्नेचर स्टाइल में किचन में Motte (अंडे) बना कर खाए फिर आराम से बाहर गया.

पुलिस के अनुसार Jose चोरी करने वाले घर से कीमती सामान बाहर ले जाने से पहले अंडे खाता है. एक बार किसी घर में उसे चोरी के लिए कुछ भी नहीं मिला. तब वो दीवार पर पोस्टर चिपका गया, जिस पर लिखा था, 'कृपया अगली बार घर से बाहर जाने से पहले मेरे लिए कुछ सोना और पैसा रख जाना.'

Paravoor पुलिस के अनुसार Jose और भी अजीब-ओ-ग़रीब चीज़ें करता है. खोजी कुत्तों को भटकाने के लिए, वो जिस घर में चोरी करता है वहां इर्द-गिर्द कचरा फ़ैला देता है. वो पिछले कुछ सालों से जेल में था और 16 जुलाई को ही जेल से बाहर आया था.

पुलिस ने Jose का एक और किस्सा बताया, Jose साल 2005 में एक घर में चोरी करने गया था, वहां घरवाले आत्महत्या कर रहे थे. घरवालों ने उसे चोरी करने की छूट दे दी. लेकिन Jose ने चोरी करने के बजाए उनसे घंटों बातें कर समझा-बुझा कर आत्महत्या करने से रोका.