जनवरी महीने की शुरूआत में मध्य प्रदेश पुलिस ने स्टैंड अप कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी सहित चार लोगों को गिरफ़्तार किया था. रिपोर्ट के मुताबिक, कॉमेडियन पर हिंदू देवी-देवता का मज़ाक उड़ाने का लगा आरोप लगा था. बताया जा रहा है कि मालिनी सिंह गौड़ के बेटे, एकलव्य सिंह गौड़ की शिकायत के आधार पर मुनव्वर को हिरासत में लिया था.

police
Source: India Times

वहीं एक बार फिर से मुनव्वर फ़ारूक़ी की मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं. ख़बर के अनुसार, यूपी पुलिस ने कॉमेडियन के खिलाफ़ प्रोडक्शन वॉरंट जारी किया है. प्रयागराज पुलिस द्वारा इंदौर सीजेएम और कोर्ट में प्रोडक्शन वॉरंट पेश कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि मुनव्वर फ़ारूक़ी के ख़िलाफ़ 19 अप्रैल 2020 को स्थानीय वकील आशुतोष मिश्रा ने जॉर्ज टाउन पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई गई थी. शिकायतकर्ता का कहना है कि उसने सोशल मीडिया पर कॉमेडियन का एक वीडियो देखा था.

police
Source: India Times

वीडियो में वो गृहमंत्री अमित शाह और हिंदू देवी-देवताओं का मज़ाक उड़ाते पाये गये, जिससे समाज में हिंदू-मुस्लिम समुदाय के बीच नफ़रत फ़ैलाने की कोशिश की गई. मामले के जांच अधिकारी इंस्पेक्टर धकेश्वर सिंह का कहना है कि बीते 7 जनवरी को इंदौर जेल में प्रोडक्शन वॉरंट पेश किया था, जिसकी एक कॉपी उन्होंने इंदौर कोर्ट में भी दी है.

munawar farooqui
Source: indianexpress

वहीं इंदौर जेल के अधीक्षक, राजेश कुमार भांगरे का मानना है कि उन्हें अब तक कोई भी प्रोडक्शन वॉरंट प्राप्त नहीं हुआ है. जब प्राप्त होगा, तब मुनव्वर फ़ारूक़ी को यूपी पुलिस को सौंप दिया जायेगा.