सरकार की मिड-डे मील की योजना को आगे बढ़ाते हुए सभी सरकारी स्कूलों के छात्र अब किचन गार्डन के जरिए अपनी पसंद के फल और सब्ज़ियां उगाएंगे. इन्हीं फलों और सब्जियों को वो लोग मिड-डे मील में भी इस्तेमाल करेंगे.

बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए, कक्षा 8 तक के सभी सरकारी स्कूल इन सब्जियों को व्यवस्थित रूप से विकसित कर इस्तेमाल करने का आदेश है.

kitchen garden
Source: hindustantimes

इस नेक पहल के जरिए स्कूलों में मिड-डे मील पकाने के लिए आवश्यक सब्जियों की मांग भी पूरी हो जाएगी. सभी स्कूल सब्जियों एवं फलों के लिए आत्म-निर्भर हो जाएंगे. बच्चों को और ज़्यादा पोषण भी मिलेगा.

राज्य सरकार के आदेशों के बाद शहर में सभी सरकारी स्कूलों ने अपने-अपने परिसर के भीतर किचन गार्डन के लिए स्थान बनाना शुरू कर दिया है.

students growing vegetables
Source: preptube

ब्लॉक एजुकेशन ऑफ़िसर (शहर) ज्योति शुक्ला ने कम से कम एक दर्जन स्कूलों को बागवानी का काम ज़ल्द शुरू करने के निर्देश जारी किए हैं.

बच्चों को ताजी सब्जियां प्रदान करने के अलावा, किचन गार्डन का उद्देश्य छात्रों को बागवानी सिखाना है. विभिन्न सब्ज़ियों के बारे में बच्चों को और जानकारी देना भी है. इसके साथ-साथ उन्हें उनके स्वास्थ्य के प्रति और ध्यान देने के लिए प्रेरित करना.

vegetables and fruits
Source: thehindu

यूपी में बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल ने कहा, 'MHRD इस उद्देश्य के लिए प्रति स्कूल को 5,000 रुपये प्रति वर्ष आवंटित करेगा और प्रत्येक स्कूल को इस योजना पर काम करना होगा.'

सरकार द्वारा ये एक सरहानीय कदम है.