जो लोग इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से नोएडा और गाजियाबाद की यात्रा करना चाहते हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (UPSRTC)सुविधा प्रदान करेगी. लेकिन इसके लिए यात्रियों को अधिक किराया देना पड़ेगा. एयरपोर्ट से नोएडा और गाजियाबाद आने वाले यात्रियों को 10 हज़ार रुपये में टैक्सी मिलेगी. ये किराया 250 किमी की रेंज का है.

Source: nationalheraldindia

कोरोनो वायरस के प्रकोप के कारण लोग अलग-अलग स्थानों पर फंसे हुए हैं और घर पहुंचने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. यूपीएसआरटीसी की टैक्सी बुक करने की न्यूनतम लागत सिडान के लिए 10,000 रुपये और एसयूवी के लिए 12,000 रुपये होगी. अगर 250 किमी से ज़्यादा दूरी तक जाते हैं, तो ज़्यादा भुगतान करना पड़ेगा. इसके अलावा यूपीएसआरटीसी ने बसों की भी सर्विस निर्धारित की है, जिसमें बिना एसी बस का न्यूनतम किया 1,000 रुपए प्रति सीट और एसी बस का 1,320 प्रति सीट होगा. ये किराया 100 किमी तक की दूरी पर तय किया गया है.

यूपीएसआरटीसी के प्रबंध निदेशक राज शेखर ने 9 मई को नोएडा और गाजियाबाद में निगम के क्षेत्रीय प्रबंधकों को एक पत्र जारी किया. इसमें कहा गया कि वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों से वापस लाए गए निवासियों की यात्रा को सुविधाजनक बनाएंगे. पत्र में कहा गया, ‘निगम हवाई अड्डे पर बस और टैक्सियों की सुविधा देगा. जिन लोगों को यात्रा करने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा मंजूरी दे दी जाएगी और कोविद-19 के कोई लक्षण नहीं हैं वो इस सेवा का लाभ उठा सकते हैं.’

Source: millenniumpost

हवाई अड्डे से 250 किमी तक टैक्सी बुक करने पर 10,000 रुपये का खर्च आएगा. टप्रत्येक अतिरिक्त किमी की लागत 40 रुपये होगी. एसयूवी की बुकिंग के लिए पहले 250 किमी के लिए 12,000 रुपये और प्रत्येक अतिरिक्त किलोमीटर के लिए 50 रुपये का खर्च आएगा.’ साथ ही ड्राइवर के अलावा टैक्सी में केवल दो व्यक्ति ही बैठ सकते हैं.

एक नॉन एसी बस में एक सीट की कीमत 1,000 रुपये और एक एसी बस में सीट की कीमत 1,320 रुपये प्रति 100 किमी होगी. किसी भी दूरी 101-200 किमी के लिए शुल्क दोगुना हो जाएगा. सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए बसों में अधिकतम 26 लोगों को बैठाया जाएगा. विदेशों से वापस लाए गए सभी लोगों को दिल्ली में 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रखा गया है. एक बार जब क्वारंटाइन की अवधि पूरी हो जाएगी तो परिवाहन विभाग नोएडा, गाजियाबाद और अन्य शहरों में उनकी यात्रा के लिए ये सुविधा उपलब्ध करवाएगा.